class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

साम्प्रदायिक शक्तियों का करेंगे विरोध:सुबोध कांत सहाय

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और केन्द्रीय खाद्य एवं प्रसंस्करण उद्योग मंत्री सुबोध कांत सहाय ने शुक्रवार को कहा कि झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) सरकार के गठन में साम्प्रदायिक शक्तियों का साथ नहीं देंगे।

 सहाय ने  संवाददाता सम्मेलन में कहा कि राज्य में पांच चरणों के विधानसभा चुनाव में जनतंत्र की जीत हुई है और बुलेट असफल हो गया तथा बैलेट जीत गया। राज्य के 23 जिले नक्सल प्रभावित हैं और ऐसे में शांतिपूर्ण चुनाव के लिए राज्य प्रशासन बधाई का पात्र है। राज्य में कांग्रेस गठबंधन की सरकार बनने जा रही है और पांचवे तथा अंतिम चरण के मतदान वाले 16 विधानसभा क्षेत्रों में से कम से कम दस सीटों पर कांग्रेस गठबंधन (संप्रग) की जीत होगी। केन्द्र में जिस प्रकार इस वर्ष संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन की सरकार बनी उसी प्रकार झारखंड में भी सभी पूर्वानुमानों को झुठलाते हुए संप्रग की सरकार बनेगी। पुलिस के जवानों ने अपनी शहादत देकर प्रदेश में जिस प्रकार शांतिपूर्ण चुनाव कराया इसके लिए वह उन्हें सलाम करते हैं।

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री पद के वह उम्मीदवार नहीं है और न ही इसके लिए बेचैन हैं पार्टी आलाकमान का कोई आदेश अंतिम वाक्य होगा। इस अवसर पर झारखंड विकास मोर्चा (झाविमो) प्रजातांत्रिक के महासचिव प्रवीण सिंह ने कहा कि राज्य में 41 विधानसभा सीटों पर राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) लडाई में नहीं है और केवल 40 सीटों पर वह पहले दूसरे स्थान के लिए लडाई लड़ रही है। उन्होंने कहा कि राज्य में कांग्रेस झाविमों गठबंधन की सरकार बनेगी और धर्म निरपेक्ष सरकार के गठन में जो भी ताकतें सहयोग करेंगी उनका स्वागत किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:साम्प्रदायिक शक्तियों का करेंगे विरोध:सुबोध कांत सहाय