class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुख्यमंत्री का फर्जी पत्र लगाकर मांगा शस्त्र लाईसेंस, गिरफ्तार

मुख्यमंत्री का फर्जी सिफारिशी पत्र लगाकर सस्त्र लाईसेंस मांगने वाले उत्तराखंड वन्य जीव बोर्ड के सदस्य व नटवरलाल को जिलाधिकारी के आदेश पर गिरफ्तार कर लिया गया है। मामले में प्रभारी अधिकारी शस्त्र हेमन्तवर्मा की ओर से नटवरलाल के खिलाफ सिडकुल चौकी में मुकदमा दर्ज कराया गया है।


जानकारी के मुताबिक ग्राम नन्दपुर नरकाटोपा, थाना बाजपुर निवासी प्रमोद कुमार शस्त्र लाईसेंस के लिए जिलाधिकारी को आवेदन किया था। इस आवेदन के साथ प्रदेश के मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक के नाम से एक सिफारिशी पत्र लगाया गया था जिसमें प्रमोद कुमार को उत्तराखंड वन्य जीव बोर्ड का सदस्य बताते हुए लाईसेंस जारी करने की सिफारिश की गयी थी।

प्रमोद कुमार की ओर से शस्त्र लाईसेंस के लिए लगाए गए मुख्यमंत्री के सिफारिशी पत्र की जब जांच की गयी तो पाया कि प्रमोद कुमार को पूर्व में मुख्यमंत्री कार्यालय से उप सचिव गोकुलानन्द लोहनी के हस्ताक्षर से एक शुभकामना पत्र जारी किया गया था। प्रमोद कुमार ने इस पत्र को स्कैन कराकर उसमें फर्जी ढंग से शुभकामना संदेह को हटाकर उसके स्थान पर शस्त्र लाईसेंस जारी करने का मैटर प्रकाशित करवा दिया।

मामले की संदिग्धता को देखते हुए जिलाधिकारी मोहन चन्द्र उप्रेती के आदेश पर आज सिडकुल पुलिस ने प्रमोद कुमार को गिरफ्तार कर लिया। मामले में प्रभारी अधिकारी शस्त्र हेमन्त कुमारवर्मा की ओर से उसके खिलाफ सिडकुल चौकी में मुख्यमंत्री के नाम का दुरूपयोग कर धोखाधड़ी करने कामुकदमा दर्ज कराया गया है।  

17आरडीपी4पी की फोटो लाइन-नटवर लाल प्रमोद कुमार।
17आरडीपी5पी की फोटो लाइन-रुद्रपुर पुलिस की गिरफ्त में नटवर लाल प्रमोद कुमार।
जहांगीर राजू

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मुख्यमंत्री का फर्जी पत्र लगाकर मांगा शस्त्र लाईसेंस, गिरफ्तार