class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वाणिज्यकर विभाग की कार्यवाई से व्यापारियों में रोष

जनपद के व्यापारियों ने वाणिज्यकर विभाग की मोबाइल टीम और विशेष अनुसंधान शाखा के खिलाफ रोष प्रकट किया है। लगभग दर्जन भर व्यापारी विभाग के उच्चधिकारियों से मिलकर व्यापारियों के साथ हो रही ज्यादतियों पर रोक लगाने की मांग की है।

व्यापारियों का आरोप था कि जो ईमानदारी पूर्वक टैक्स दे रहे हैं,विभाग उसी को निशाना बना रहा है। विभाग के हर माह बढ़ रहे लक्ष्य का निशाना व्यापारी ही हो रहे हैं। जबकि अधिकारियों और कर्मचारियों के जान पहचान वाले की गाड़ियों की ना तो मोबाइल टीम जांच करती है और ना ही विशेष अनुसंधान शाखा की ओर से कोई कार्रवाई की जाती है। इसके अलावा व्यापारियों को फार्म 38 और फार्म सी लेने में भी काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इसके कारण व्यापारियों की गाड़ियां बार्डर पर ही खड़ी रह जाती है।

जिसका फायदा अधिकारी उठाते हैं और गाड़ी छोड़ने के लिए पैसे की मांग करते हैं।  इस मामले को हाल ही में लोहा व्यापारियों के प्रतिनिधियों ने भी उठाया था। व्यापारियों का आरोप था कि विभाग हर माह टारगेट बिना सोचे समङो बढ़ा देते है जिसके चलते व्यापारियों से वसूली बढ़ाने की कोशिश की जाती है। इस संबंध में विभाग के ज्वाइंट कमिश्नर उदयभान सिंह ने कहा कि व्यापारियों की समस्याएं सुनी गई है। जो समस्याएं हैं उसी विभाग सुलझाने में मदद करेगा। उन्होंने मोबाइल टीम द्वारा किसी भी व्यापारी के साथ भेदभाव की बात को गलत बताया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वाणिज्यकर विभाग की कार्यवाई से व्यापारियों में रोष