class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गंगाजल के बजाए गड्ढे आ गए शहर में

शहरवासियों को गंगाजल की धार तो नहीं मिली। लेकिन,गड्ढों से होने वाली परेशानी जरूर मिल गई है। जिससे हाईवे से शहर के अंदर सेक्टर्स में जाने में वाहन चकरघिन्नी बन जाते हैं।


गंगाजल लाने की कवायद में हो रही देरी की वजह से पॉश इलाका गड्ढों में चला गया है। नेश्नल हाईवे-24 से सेक्टर-62 के अंदर जाने के लिए जगह-जगह बैरियल लगा दिए गए हैं। इसके पीछे कारण यहां की सर्विस लेन में चल रही गंगाजल डालने के लिए खुदाई है। अथॉरिटी के इंजीनियरों के मुताबिक लाइन तो डाल दी गई है। अब उसको कनेक्ट करने का कार्य किया जा रहा है। इसमें हो रही देरी परेशानी बन कर लोगों को सुबह-शाम सताती है। कार्यो की वजह से कट बंद कर बैरियर लगा दिए गए हैं। जिससे मेन रोड पर तो ट्रैफिक स्मूथ रहता है। लेकिन,सड़क के दोनों ओर सेक्टर्स में अंदर जाने के लिए लंबी जंग लड़नी पड़ती है।


हाईवे से यदि आपको सेक्टर-62 में किसी कंपनी की ओर जाना है तो फोर्टिस से पहले अंदर नहीं जा सकते। रात को तो यहां पर स्थिति दयनीय हो जाती है। फोर्टिस के सामने का कट वाहनों के दबाव के सामने दम तोड़ देता है। एपीई ए.के.वरुण ने बताया कि लाईन डाल दी गई है। बस कनेक्ट किया जा रहा है। जिसको पंद्रह-बीस दिनों में पूरा कर लिया जाएगा।

 यहां पर हैं लगभग-200 कंपनियां
 साठ हजार लोग आते हैं इन सेक्टर्स में
 लगभग पंद्रह हजार छोटे-बड़े वाहनों का आवागमन

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गंगाजल के बजाए गड्ढे आ गए शहर में