class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नेपाल में राजनीतिक गतिरोध समापन के करीब पहुंचे नेता

नेपाल में राजनीतिक गतिरोध समापन के करीब पहुंचे नेता

नेपाल में शीर्ष नेता एक महत्वपूर्ण मसौदा प्रस्ताव को अंतिम रूप देने के सोमवार को करीब पहुंच गए जिसे संसद में पेश किया जाएगा। यह मौजूदा राजनैतिक गतिरोध का समापन करेगा, जिसने देश में शांति प्रक्रिया को पटरी से उतार दिया है।

एक न्यूज रिपोर्ट में बताया गया है कि नेपाली कांग्रेस अध्यक्ष जीपी कोइराला, सीपीएन-माओवादी प्रमुख पुष्प कमल दहल और सीपीएन-यूएमएल अध्यक्ष झाला नाथ खनल मौजूदा गतिरोध को खत्म करने के लिए कामन रिजाल्यूशन मोशन के मसौदे को अंतिम रूप देने के लिए मिलेंगे। नेपाल न्यूज आनलाइन ने बताया कि कोइराला, प्रचंड और खनल सोमवार को प्रधानमंत्री कार्यालय में मिले जिसमें इस आशय का फैसला किया गया।
   
सीपीएन-यूएमएल नेता भरत मोहन अधिकारी ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि शीर्ष नेताओं की बैठक कामन रिजाल्यूशन मोशन को अंतिम रूप देने में सक्षम होगी। गौरतलब है कि अधिकारी रिजाल्यूशन मोशन तैयार करने के लिए तीन दलों वाले कार्यबल के सदस्य हैं।
   
मौजूदा राजनैतिक गतिरोध इस बात को लेकर है कि माओवादी राष्ट्रपति रामबरन यादव के उस फैसले में सुधार की मांग कर रहे हैं जिसके जरिए सैन्य प्रमुख एकमांगद कटवाल को बहाल किया गया था। तत्कालीन प्रधानमंत्री प्रचंड ने तत्कालीन सैन्य प्रमुख को मई में बर्खास्त कर दिया था। माओवादियों की दलील है कि राष्ट्रपति का कदम असंवैधानिक था और इसने सैन्य सर्वोच्चता के उपर असैन्य प्रभुत्व के साथ समझौता किया।

माओवादी इस बात पर अडिग हैं कि प्रस्ताव में राष्ट्रपति के असंवैधानिक फैसले का साफ तौर पर उल्लेख हो। इस कदम का नेपाली कांग्रेस और सीपीएन-यूएमएल विरोध कर रही है।
   
रिपोर्ट के अनुसार हालांकि, माओवादियों ने अपने रुख में कुछ लचीलापन दिखाया है और वे चाहते हैं कि प्रस्ताव में सांकेतिक तौर पर कहा जाए कि राष्ट्रपति का कदम त्रुटिपूर्ण था। यूसीपीएन-माओवादी नेता नारायणकाजी श्रेष्ठ ने मीडिया को बताया कि राजनैतिक पार्टियां सफलता के करीब हैं और मंगलवार को जब शीर्ष नेता मिलेंगे तो एक समझौता होने की उम्मीद है। नेपाली कांग्रेस नेता राम चंद्र पौडेल ने कहा कि मसौदा प्रस्ताव के शब्दों पर मामूली असहमति है। माओवादियों के नेतृत्व वाली सरकार के इस साल इस्तीफा देने के बाद से नेपाल में राजनैतिक तनाव व्याप्त है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नेपाल में राजनीतिक गतिरोध समापन के करीब पहुंचे नेता