class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बनारसी बाबू बनकर काशी की गलियों में निकले आमिर

बनारसी बाबू बनकर काशी की गलियों में निकले आमिर

मुंह में पान चबाते हुए, चेहरे पर मफलर लपेटे और पकी दाढ़ी में तीन दिनों तक मुंबईया फिल्मों के सुपर स्टार आमिर खान बनारस की गलियों की खाक छानते रहे लेकिन कोई भी इस बनारसी बाबू की असलियत भांप नहीं सका।

रविवार सुबह जब आमिर खान अपनी अम्मी के जन्म स्थान गंगा किनारे प्रहलाद घाट के निकट तेलिया नाला पर ख्वाजा मंजिल पहुंचे और वहां उन्होंने लोगों से पूछा, का गुए इ बनारस हौ, आमिर खान के ना पहचान पइलन लोग।

इस पर लोग चौंक गए और ध्यान से करीब जाकर देखा तो सामने बॉलीवुड के सुपरस्टार आमिर को पाकर उनकी खुशी का ठिकाना न रहा। आने वाली फिल्म थ्री इडियटस के प्रमोशन के लिए आमिर अपने किरदार रैंचो की तरह देश के सात शहरों में छुपे तौर पर घूमने निकले हैं।

वाराणसी उनके सफर का पहला पड़ाव है। फिल्म में रैंचो को उसके दोस्त ढूंढ़ते रहते हैं। इसी तर्ज पर आमिर ने अपने चाहने वालों को उन्हें ढूंढ़ने के लिए कहा है और कोई उन्हें पहचान न सके इसके लिए वह भेष बदलकर घूम रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बनारसी बाबू बनकर काशी की गलियों में निकले आमिर