class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्वाइन फ्लू पीड़ितों की कुल संख्या 675 हुई

साइबर सिटी में स्वाइन फ्लू के नए मामले रोजाना बढ़ रहे हैं। गुरुवार को शहर में स्वाइन फ्लू के 22 मरीजों की पहचान की गई थी। जबकि शुक्रवार को 25 मरीजों के स्वाइन फ्लू की चपेट में आने की पुष्टि हुई है। अब तक शहर में स्वाइन फ्लू के 675 मामले प्रकाश में आ चुके हैं।


शुक्रवार को गुड़गांव में स्वाइन फ्लू के 25 नए मरीजों की पहचान की गई। इनमें 14 स्कूली बच्चाे शामिल हैं। सिविल सर्जन डॉ. एस. एस. दलाल के अनुसार अब तक 423 स्कूली बच्चाे स्वाइन फ्लू की चपेट में आ चुके हैं। उनके अनुसार स्वाइन फ्लू को तीन श्रेणियों - ए, बी व सी में बांटा गया है। सी श्रेणी के स्वाइन फ्लू में तेज बुखार, खांसी के साथ खून आना व सांस लेने में दिक्कत होती है। इस तरह के मामलों की जांच करवाने के लिए सामान्य अस्पताल में सैंपल लिए जा रहे हैं। जबकि ए और बी श्रेणी के स्वाइन फ्लू सामान्य किस्म के खांसी, जुकाम की तरह  हैं और बी श्रेणी के लिए टेमीफ्लू गोलियां दी जा रही हैं। उन्होंने बताया कि अस्पताल में टेमीफ्लू गोलियां पर्याप्त मात्र में उपलब्ध हैं। डॉ. दलाल के अनुसार स्वाइन फ्लू के बारे से घबराने की आवश्यकता नहीं है, बल्कि बचाव के उपाय अपनाकर इस बीमारी से बचा जा सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:स्वाइन फ्लू पीड़ितों की कुल संख्या 675 हुई