class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जैविक प्रक्रिया से दूर होगी सीवर जाम की समस्या

इंदिरापुरम वासियों को सीवर जाम की समस्या से अब जल्द ही निजात मिलने वाली है। इसके लिए नगर निगम ने इंदिरापुरम स्थित सीवर ट्रीट मेंट प्लांट (सीटीपी) का संचालन कनाडा की एक कंपनी को दिया है। जो जैविक प्रक्रिया अपनाकर सीवर चोक की समस्या को समाप्त करेगी। नगर आयुक्त ने शुक्रवार को प्लांट का निरीक्षण कर कंपनी द्वारा किए जा रहे कार्यो को की जांच-परख की। फिलहाल अभी एक महीने के ट्रायल पर इसे रखा गया है। सफलता मिलने पर अन्य सीटीपी प्लांटों में भी यही तरीका अपनाया जाएगा।


इंदिरापुरम स्थित सीवर ट्रीटमेंट प्लांट का संचालन अब वैज्ञानिक पद्धति से किया जाएगा। यह काम कनाडा की कंपनी इनवायरों वे को सौंपा गया है। जो अगुमेंटेसन की प्राकृतिक प्रक्रिया द्वारा एसटीपी की दक्षता को बढ़ाएगी। इस प्रक्रिया द्वारा नालों व सीवर लाइनों की आटोमेटिक सफाई होती रहेगी।


 कंपनी के चीफ ऑपरेटिंग आफीसर मुकेश चोपड़ा ने बताया कि बायोजाइम प्रक्रिया द्वारा सीवरों की सफाई की जाएगी। बायोजाइम के अंदर कुछ चुनिंदा कीटाणुओं की कॉलोनी होती है। इसके प्रयोग से एसीटीपी संचालन में काफी लाभ होगा। इस प्रक्रिया में खास बात यह है कि कार्यक्षेत्र का वातावरण प्रदूषित नही होगा। एसटीपी की लाइफ बढ़ जाएगी। नगर आयुक्त अजय शंकर पांडेय ने बताया कि बायोजाइम के प्रयोग से पार्को में पानी की समस्या से भी निजात मिलेगी। इसके अलावा पुराने पद्धति पर चली आ रही एसटीपी की मानक क्षमता बढ़ेगी। उन्होंने बताया कि ट्रांस हिंडन क्षेत्र की सभी सीवर लाइनों, सीवेज पंपिंग स्टेशन सीवर पंपिंग स्टेशन का रखरखाव कंपनी द्वारा संचालित किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जैविक प्रक्रिया से दूर होगी सीवर जाम की समस्या