class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीमार और अपंग रेल यात्रियों की मदद के लिए अनूठा अभियान

एक मानवाधिकार संगठन ने अनूठी मानवीय पहल करते हुए बीमार और अपंग यात्रियों को रेलगाडियों में गठरी की तरह लाद कर चढाने और उतारने की समस्या से निजात दिलाने के लिए सभी रेलवे स्टेशनों पर अत्याधुनिक व्हील चेयर उपलब्ध कराने का अभियान शुरू किया है।

 

 मानवाधिकार संरक्षण संगठन नाम की इस संस्था ने कल विश्व मानवाधिकार दिवस के अवसर पर टाटानगर रेलवे स्टेशन से इस अभियान की शुरूआत की। संगठन के सचिव निर्मल सिंह ने बताया कि अगले माह तक दक्षिण पूर्व रेलवे के चक्रधरपुर मंडल में लगभग सभी 50 छोटेबड़े स्टेशनों पर यह सुविधा उपलब्ध करा दी जाएगी। इसका रखरखाव भी रेलवे के साथ मिल कर संगठन ही करेगा। इसके बाद हावडा और पश्चिम बंगाल के अन्य स्टेशनों तथा देश भर में इस अभियान का विस्तार किया जाएगा।
 श्री सिंह ने कहा कि संगठन ने महसूस किया है कि कई छोटे बडे स्टेशनों पर अपंग अथवा बीमार लोगों के लिए पर्याप्त व्हील चेयर उपलब्ध नहीं हैं जिससे इन लोगों तथा उनके परिजनों को खासी परेशानी होती है। उन्होंने कहा कि कई छोटे स्टेशनों पर तो अपंगों और बीमार लोगों को गठरी की तरह लाद कर ट्रेनों में चढ़ाते और उतारते देख कर काफी दुख होता है। पिछले साल अपनी बीमार मां को तमिलनाडु ले जाते समय मैंने भी रास्ते में ऐसी परेशानी का सामना किया था। इसके बाद ही मैने ठान लिया था कि इस दिशा में कुछ ठोस काम करना होगा।
 
उन्होंने बताया कि इस काम में रेलवे से भी पूरा सहयोग मिल रहा है। उनका संगठन पिछड़े क्षेत्रों में गुणवत्तायुक्त शिक्षा के प्रसार के लिए जागरूकता फैलाने के लिए भी एक कार्यक्रम शुरू कर रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बीमार और अपंग रेल यात्रियों के लिए अनूठा अभियान