class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिजली-पानी समस्या को लेकर ग्रामीणों में आक्रोश

प्रदेश में बिजली-पानी की समस्या कम होने का नाम नहीं ले रही है। इस समस्या से त्रस्त लोग आये दिन कहीं-न-कहीं जाम लगा रहे हैं। मंगलवार सुबह गांव पेगां के लोगों ने बिजली पानी की समस्या तथा गांव को अलग फीडर से जोड़ने की मांग को लेकर जींद-कैथल मार्ग पर अवरोधक डालकर जाम लगा दिया।

जाम की सूचना मिलते ही अलेवा थाना प्रभारी दलबल सहित मौके पर पहुंच गए। मगर ग्रामीण उनकी कोई भी बात सुनने को राजी नहीं हुए। बाद में बिजली विभाग नगूरां के जेई प्रदीप कुमार तथा सफीदों के पुलिस उपाधीक्षक सभाचंद ने मौके पर ग्रामीणों को आश्वासन दिया कि गांव पेगां सहित डाहौला, चूहड़पुर, शामदों, थुआ, बुल्लाखेड़ी को भी अलग फीडर से जोड़ दिया जाएगा। लगभग पांच घंटे लगे जाम के कारण यात्रियों तथा वाहन चालकों को अच्छी खासी परेशानी का सामना करना पड़ा।

बिजली गुल रहने के कारण पिछले कई दिनों से पीने के पानी की सप्लाई भी नहीं हो पा रही है। घरों में बिजली के उपकरण होने की सुविधा होने के बाद भी मजबूरन लोगों को हाथ से कार्य करने पड़ रहे हैं।

ग्रामीणों ने बताया कि बिजली समस्या को लेकर तथा गांव की लाइन को अलग फीडर से जोड़े जाने की मांग को लेकर वे  कई बार बिजली निगम के अधिकारियों से मिल चुके हैं। लेकिन आश्वासनों के सिवाए उन्हें कुछ हासिल नहीं हुआ।
जाम की सूचना मिलते ही अलेवा थाना प्रभारी मौके पर पहुंच गए।

मगर ग्रामीण बिजली निगम के अधिकारियों को मौके पर बुलाने की मांग पर अड़ गए। बाद में बिजली विभाग नगूरां के जेई प्रदीप कुमार तथा सफीदों के पुलिस उपाधीक्षक सभाचंद मौके पर पहुंच गए।

उन्होंने ग्रामीणों को आश्वासन दिया कि गांव पेगां सहित डाहौला, चूहड़पुर, शामदों, थुआ, बुल्लाखेड़ी को भी अलग फीडर से जोड़ दिया जाएगा। जिस पर ग्रामीण जाम खोलने को राजी हो गए। लगभग पांच घंटे लगे जाम के कारण यात्रियों तथा वाहन चालकों को अच्छी खासी परेशानी का सामना करना पड़ा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिजली-पानी समस्या को लेकर ग्रामीणों में आक्रोश