class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शेयर बाजार

शेयर बाजार में निवेश की अस्थिरता से निपटने के लिए जरूरी है कि आप कुछ प्रमुख बातों को ध्यान में रखकर निवेश करें।

कंपनियों की जानकारी :  समझें कि आप कौन सी कंपनियों के शेयर आप खरीदना चाहते हैं। कंपनी के फाइनेंशियल और बिजनेस से जुड़ी जानकारियों को एकत्र करें। उनकी वेबसाइट पर उनके रिकॉर्ड को देखें। बाजार में होने वाले उतार-चढ़ाव को ध्यान में रखकर ही कंपनी को चयन करना ही एकमात्र हल नहीं है।

शॉर्ट टर्म :  अल्पअवधि  में होने वाले उतार-चढ़ावों की वजह से परेशान न हो। आपको मानना पड़ेगा कि स्टॉक लांग टर्म में ही बेहतर रिटर्न देते है। अस्थिरता के इस दौर में बेहतरी इसी में है कि आप बड़ी कंपनियों के शेयर को खरीद लें। इस समय सिर्फ बेहतर रिटर्न दे सकने वाले, लेकिन ज्यादा जोखिम वाले शेयरों में पूरा निवेश न करें। बेहतर इसमें है कि अपने निवेश को डायवर्सिफाई करें, ताकि किसी भी स्थिति में आपको पूरी तरह से नुकसान न हो। अगर कोई फंड गिरेगा, तो दूसरा उसकी भरपाई कर सके।

बेचना-खरीदना :  इस दौर में निवेशक बाजार के ऊपर चढ़ने की स्थिति में शेयरों को बेच सकता है। साथ ही इस  समय अपने पोर्टफोलियो में कुछ शेयरों को आप जोड़ भी सकते है। इस स्थिति में यह संभव है कि कुछ स्टॉक आपकी उम्मीद से ज्यादा तेजी से चढ़े। अगर आपको लगता है कि आप कीमतों में इतनी बढ़ोतरी की उम्मीद कर रहे थे, तो इसे बेच दें। एक बात जो हमेशा ध्यान रखने की है, वो ये कि तब खरीदें, जब बाजार नीचे हो, बेचे तब, जब बाजार ऊपर हो। नियमित निवेश से ही बाजार में होने वाले उतार-चढ़ाव से बचा जा सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:शेयर बाजार