class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आयरन एंड स्टील की फर्म टैक्स चोरी के मामले में फंसी

पांडव नगर (गाजियाबाद) की एक आयरन एंड स्टील की फर्म टैक्स चोरी के मामले में फंस गई है। फर्म द्वारा तीन करोड़ से ज्यादा की खरीद बिक्री पर टैक्स चोरी का मामला प्रकाश में आया है। मजेदार बात यह है कि इस फर्म का पहले भी कर चोरी के मामले में लाइसेंस रद्द कर दिया गया था लेकिन फर्म बिना लाइसेंस के भी खरीद बिक्री का काम कर रही थी। इस मामले में जांच डिप्टी कमिश्नर लेवल के अधिकारी को सौंप दी गई है।


मास्टरजी स्टील फर्म का रजिस्ट्रेशन वाणिज्यकर विभाग में इसी वर्ष 13 जून को किया गया था। शिकायत मिलने पर वाणिज्यकर अधिकारियों द्वारा 8 सितम्बर को इस फर्म की जांच की गई थी। जांच के दौरान फर्म पर कोई स्टॉक एवं लेखा पुस्तकें नहीं पाई गई थी। इस कारण इस फर्म का रजिस्ट्रेशन 25 सितंबर को रद्द कर दिया गया था। परन्तु फर्म बिना रजिस्ट्रेशन के ही खरीद बिक्री का काम जारी रखे हुए थी। फर्म द्वारा अक्टूबर माह में लगभग 3 करोड़ की फर्जी खरीद दिखाई जा रही थी। महत्वपूर्ण बात यह है कि फर्म स्थल की जांच में इस बात का खुलासा हुआ कि दो माह से वहां कोई वाहन आते-जाते भी नहीं देखा गया है। स्थल से प्रांतीय टैक्स से खरीदे गए माल का स्टॉक भी नहीं मिला है। जबकि व्यापारी द्वारा आयरन एंड स्टील की खरीद मुजफ्फरनगर एवं नोएडा की तीन फर्मो से दिखाया जा रहा था। इस मामले में विभाग ने मुजफ्फरनगर तथा नोएडा की फर्मो की जांच भी जहां मामला संदिग्ध पाया गया। व्यापारी के फर्म रजिस्ट्रेशन एवं कर चोरी का मामला विभाग के एक डिप्टी कमिश्नर को सौंप दी गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आयरन एंड स्टील फर्म टैक्स चोरी के मामले में फंसी