class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

केन्द्रीय योजनाओं की शिथिलता को ले आंदोलन करेगी राकांपा

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) नरेगा और केन्द्रीय योजनाओं की शिथिलता को लेकर राज्य सरकार के खिलाफ आंदोलन करेगी। पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव तारिक अनवर ने कार्यकर्ताओं को विधानसभा चुनाव के लिए तैयार रहने का आह्वान किया है।

राज्य परिषद के नवनिर्वाचित प्रतिनिधियों की पहली बैठक को संबोधित करते हुए श्री अनवर ने कहा कि बाबरी मस्जिद विध्वंश के जिम्मेवार 68 नेताओं के विरुद्ध केन्द्र सरकार को तुरंत कानून सम्मत कार्रवाई करनी चाहिए। प्रदेश कार्यालय में आयोजित बैठक में सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित कर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष,अन्य पदाधिकारी एवं कार्यसमिति के सदस्यों के मनोनयन का अधिकार श्री अनवर को सौंप दिया गया।


इस अवसर पर श्री अनवर ने कहा कि राकांपा 6 दिसम्बर को  देश के इतिहास का काला दिन मानती है। इसी दिन भाजपा, शिवसेना, विश्व हिन्दू परिषद और बजरंग दल के नेताओं ने मिलकर बाबरी मस्जिद तोड़कर एक ऐसी असाधारण घटना को अंजाम दिया जिसने धर्मनिरपेक्ष भारत के ताने-बाने को हिलाकर रख दिया। उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यकों को सुरक्षा देना किसी भी सभ्य और जागरुक राष्ट्र की पहचान है। ऐसे में सांप्रदायिक दंगा विरोधी अधिनियम को उसके वर्तमान स्वरूप में जल्द ही पारित करना चाहिए। इससे फिरकापरस्त ताकतों को बाबरी मस्जिद विध्वंश जैसी घटनाओं को अंजाम देने से रोका जा सकेगा। बैठक को प्रदेश राकांपा अध्यक्ष मोहन लाल अग्रवाल, वरीय नेता अकील हैदर, पूर्व मंत्री करुणेश्वर सिंह समेत कई नेताओं ने संबोधित किया। इस अवसर पर मीडिया समिति के अध्यक्ष एवं प्रदेश प्रवक्ता अनिल किशोर झा समेत अन्य मोर्चा एवं संगठनों के अध्यक्ष और अन्य पदाधिकारी भी उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:केन्द्रीय योजनाओं की शिथिलता को ले आंदोलन करेगी राकांपा