class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अयोध्या की 17वीं बरसी शांतिपूर्वक बीती

अयोध्या में विवादित ढांचा गिराए जाने की 17वीं बरसी पर विभिन्न राजनीतिक दलों के विरोध की घोषणा तथा राज्य सरकार के कोई भी आयोजन नहीं करने देने के आदेश के बीच आज का दिन शांतिपूर्वक बीत गया और कहीं कोई अप्रिय घटना नहीं हुई। राज्य के विभिन्न हिस्सों में निषेधाग्या के उल्लघंन में करीब पांच सौ लोगों को हिरासत में लिया गया।

 समाजवादी पार्टी (सपा) और वाम दलों ने रविवार को काला दिवस मनाया और बाहों में काली पट्टी बांघ कर अपने विरोध का इजहार किया जबकि विश्व हिन्दू परिषद, हिन्दू महासभा और शिवसेना ने छह दिसम्बर 1992 को विवादित ढांचा गिराए जाने की 17वीं बरसी को शौर्य दिवस के रूप में मनाया और अयोध्या में राम मंदिर बनाने का संकल्प लिया।

 राज्य के अपर पुलिस महानिदेशक, कानून व्यवस्था ए.के.जैन ने कहा कि कहीं से किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है। ऐहतियात के तौर पर कुछ जगहों पर लोगों को हिरासत में लिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अयोध्या की 17वीं बरसी शांतिपूर्वक बीती