class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अंबेडकर स्मारक परिसर में अव्यवस्था से मायावती खफा

अंबेडकर स्मारक परिसर में अव्यवस्था से मायावती खफा

भीमराव अम्बेडकर की पुण्यतिथि पर रविवार को डॉ. भीमराव अम्बेडकर सामाजिक परिवर्तन स्थल पर स्थापित उनकी प्रतिमा पर श्रद्धांजलि देने पहुंची प्रदेश की मुख्यमंत्री मायावती ने मौके पर कुछ अव्यवस्थाओं को देख कर भड़क उठीं और अधिकारियों को दस दिन के भीतर सबकुछ व्यवस्थित करने का निर्देश देते हुए कहा कि मैं 10 दिन में पुन: यहां आऊंगी और व्यवस्था का निरीक्षण करुंगी।

स्मारक परिसर में बिजली व्यवस्था एवं सज्जा को नाकाफी बताते हुए मुख्यमंत्री ने इस पर भी नाराजगी जताई और वहां बिजली सज्जा बढ़ाये जाने का निर्देश दिया।

अंबेडकर की प्रतिमा पर पुष्पांजलि के बाद मुख्यमंत्री ने पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चन्द्र मिश्र एवं कैबिनेट मंत्री नसीमुद्दीन सिद्दीकी के साथ दीवारों पर उकेरी गई मूर्तियों (म्यूरल्स) को भी देखा।

देश के प्रथम राष्ट्रपति डॉ. राजेन्द्र प्रसाद को अम्बेडकर को संविधान की प्रति सौंपते हुए दिखाए गए म्यूरल की ओर इशारा करते हुए मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि इनके साथ घटना और अवसर के बारे में लिखित जानकारी भी उपलब्ध कराई जानी चाहिए।

मुख्यमंत्री ने दीवारों पर फूलों को सजाने के लिए टेप लगाये जाने पर भी नाराजगी जाहिर की, कारण कि उससे दीवारें खराब होती हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अंबेडकर स्मारक परिसर में अव्यवस्था से मायावती खफा