class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रवासी पक्षियों के कलरव से गूंजे रहे हैं गंगा के घाट

धार्मिक नगरी वाराणसी में गंगा के घाट प्रवासी प्रक्षियों के कलरव से एक बार फिर गूंज रहे हैं। गंगा में नौका विहार करने के दौरान आजकल इन खूबसूरत सफेद प्रवासी पक्षियों का झुंड सैलानियों विशेषकर विदेशियों के लिए आकर्षण का केन्द्र बना हुआ है। कुछ खाने की आशा में ये पक्षी नावों के आस-पास मंडराते रहते हैं।

ठंड शुरू होते ही इन पक्षियों का आगमन वाराणसी में शुरू हो जाता है और ये घाटों के सामने गंगा में अपना आशियाना बना लेते हैं। नाव पर सवार कोई व्यक्ति जब आव-आव की आवाज निकलता है तो ये पक्षी नाव को चारों तरफ से घेर लेते हैं। प्रवासी पक्षी मार्च माह में गर्मी शुरू होते ही अपने वतन लौट जाते हैं।

इन्हें देखने के लिए बड़ी संख्या में लोग प्रतिदिन घाटों पर आते हैं। गंगा में तैरते हुए इन पक्षियों की शोभा देखते ही बनती है। प्रवासी पक्षी न केवल लोगों के आकर्षण का केन्द्र होते है बल्कि कुछ लोगों की जीविका का साधन भी हैं।

नदी के किनारे तमाम लोगों को इन पक्षियों को खिलाने के लिए लाई एवं बेसन का सेव बेंचते देखा जा सकता है। नौका विहार करने वाले विशेषकर बच्चों इन पक्षियों को देखकर खुश होते हैं। दिलचस्प बात यह है कि ये पक्षी आबादी के पास ही रूकते हैं।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:प्रवासी पक्षियों के कलरव से गूंजे रहे हैं घाट