class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बांध की टनल में हादसा, दो मरे

कोटेश्वर बांध की टनल नं. एक में बुधवार रात को हुए हादसे में दो मजदूरों की मौत हो गई और एक गंभीर रूप से घायल हो गया। पुलिस ने कार्यदायी कंपनी के प्रबंधक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। कोटेश्वर में ढाई महीने के भीतर यह दूसरी बड़ी दुर्घटना है।

टिहरी बांध परियोजना की 400 मेगावाट की महत्वपूर्ण इकाई कोटेश्वर बांध में बुधवार देर रात टनल नं. एक के पेनस्टॉक में निर्माण के दौरान तीन मजदूर 40 मीटर ऊंचे प्लेटफार्म से नीचे टनल में जा गिरे, जिनमें से दो की घटनास्थल पर ही मौत हो गई और एक गंभीर रूप से घायल हो गया।

पुलिस ने वहां काम करा रही पीईएस कंपनी के स्थानीय प्रबंधक ए के वर्मा के खिलाफ दफा 304 ए व 336 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। मृतकों में जयंतु(38) निवासी जिला मोनाघाट असोम व टिंकू(24) निवासी जिला सिंहभूमि झारखंड शामिल हैं। गंभीर रूप से घायल नीरन निवासी मोनाघाट, असोम को जौलीग्रांट रेफर कर दिया गया है।

सूत्रों के अनुसार ये मजदूर एक झूले पर बैठकर काम कर रहे थे। काम समाप्त होने के बाद उन्होंने जैसे ही झूले की वेल्डिंग काटकर उसे ट्रॉली के सहारे वापस उतारना चाहा लेकिन अचानक झूला उलट गया और मजदूर 40 मीटर नीचे टनल में जा गिरे। कोटेश्वर बांध में पहले भी दो दुर्घटनाएं हो चुकी हैं।

16 सितंबर को स्कै्रप फोल्डिंग के ढहने से एक मजदूर की मौत हो गई थी और चार घायल हो गये थे। 17 सितंबर को रहस्यमय हालात में क्वालिटी कंट्रोल बिंग में आग लगने से वहां रखी मशीनें व रिकार्ड जल गया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बांध की टनल में हादसा, दो मरे