class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अतीक के करोड़ों के प्लॉट और बंगले पर सरकारी ताला

पूर्व सांसद अतीक अहमद और उनके परिवार वालों के नाम रही करोड़ों की संपत्तियों की पहचान कर उन्हें जब्त करने का सिलसिला जारी है। गुरुवार को पुलिस ने अतीक के कब्जे में रहे एक और प्लॉट तथा बंगले पर सरकारी ताला जड़ दिया। इन संपत्तियों की कीमत आठ करोड़ से अधिक आँकी गई है। यह संपत्ति गैंगस्टर एक्ट के तहत जब्त की गई। पुलिस का कहना है कि अतीक और उनके परिवारवालों ने यह संपत्ति अवैध तरीके से अजिर्त की। फर्जी कागजात तैयार कर बैनामा कराया गया और संपत्ति हड़प ली गई। इसकी फाइलें भी नगर निगम से गायब हैं। 

ऑपरेशन अतीक-अशरफ चलने के बाद से पुलिस अब तक इस परिवार की करोड़ों की संपत्ति कुर्क कर चुकी है। पुलिस की एक टीम अतीक एण्ड कंपनी की संपत्ति चिन्हित करने को लगाई गई है। नई संपत्तियों का पता चलने के बाद पुलिस ने पूरा रिकार्ड खँगाला और डीएम के निर्देश पर गुरुवार कुर्की की कार्रवाई पूरी की।

एसपी सिटी एके विजेता, सीओ विनोद मिश्र, इंस्पेक्टर सुरेंद्र सिंह, एसओ करेली नारायण सिंह परिहार के साथ प्रशासनिक अफसरों की टीम पहले लूकरगंज स्थित बंगले पर पहुँची। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, यह बंगला हाफिज जी नामक परिवार का है। वह परिवार पाकिस्तान चला गया। इस परिवार का एक शख्स ही यहाँ रहता था, उसे अतीक ने मारपीट कर भगा दिया था और बंगले पर कब्जा कर लिया। बाद में फर्जी बैनामा तैयार कर इसे अतीक अहमद के पिता हाजी फिरोज के नाम कर दिया गया।

नगर निगम से खसरा नकल निकलवा ली गई। पुलिस जब जाँच करने नगर निगम पहुँची तो इस बंगले से संबंधित फाइलें गायब थीं। फर्जी कागजों के जरिए हड़पे गए इस बंगले पर सरकारी ताला लगा दिया गया। इसके बाद पुलिस और प्रशासनिक दल ने करबला के पास स्थित प्लॉट पर सरकारी बोर्ड लगाया। नजूल का यह भूखण्ड 2254 वर्ग मीटर में है।

एसओ नारायण सिंह परिहार के मुताबिक, 19 नंबर का यह भूखण्ड पट्टे पर था, अतीक ने गुंडई के बल पर इसे जबरन कब्जा लिया। इसमें अतीक के घोड़े बाँधे जाने लगे, जबकि बंगला 2688 वर्ग मीटर में है। दोनों संपत्तियों की कीमत आठ करोड़ से अधिक है। प्लॉट पर आठ किराएदार काफी साल से रह रहे थे। यह सभी अतीक के परिवार को किराया देते थे।

किराएदारों ने गुजारिश की तो एसडीएम सदर ने लिखापढ़ी कर उन्हें उसी प्लॉट पर रहने दिया। अब वह किराया सरकारी खजाने में जमा करेंगे। संपत्ति जब्त करने की यह कार्रवाई गैंगस्टर एक्ट 14-1 के तहत की गई। कुर्की के दौरान अतीक के पिता हाजी फिरोज भी पहुँच गए। इस दौरान वहाँ भारी भीड़ जमा रही।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अतीक के करोड़ों के प्लॉट और बंगले पर सरकारी ताला