class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब दिमाग से कंट्रोल होगा कृत्रिम हाथ

अब दिमाग से कंट्रोल होगा कृत्रिम हाथ

वैज्ञानिकों ने अपना हाथ गंवा चुके एक व्यक्ति में एक ऐसा कृत्रिम हाथ जोड़ने में कामयाबी हासिल की है, जिसकी उंगलियां उसके विचारों के अनुरूप संचालित होंगी और किसी वस्तु को छूने पर उसे संवेदना महसूस होगी।
    
डेली एक्सप्रेस में प्रकाशित रिपोर्ट में वैज्ञानिकों ने बताया है कि यह पहला मौका है, जब एक रोगी अपने मस्तिष्क के विचारों के जरिये तंत्रिका तंत्र से जुड़े एक कृत्रिम अंग को नियंत्रित करके अहम गतिविधियां करने में सक्षम हो गया।

वैज्ञानिकों ने रोगी में इलेक्ट्रोडस लगाये। यह रोगी एक कार दुर्घटना में अपना बायां हाथ और बाजू का अगला हिस्सा गंवा चुका था। इस कृत्रिम हाथ को रोगी से इलेक्ट्रोड के जरिये जोड़ा गया।
    
वैज्ञानिकों के दल का नेतृत्व करने वाले पाउलो रोसीनी ने बताया कि एक महीने के भीतर ही इस कृत्रिम हाथ ने 26 वर्षीय पियरपाउलो पेत्रुजीलो के मस्तिष्क से भेजे गये 95 फीसदी आदेशों का पालन किया। यह वास्तविक हाथ जैसा लगने लगा।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अब दिमाग से कंट्रोल होगा कृत्रिम हाथ