class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विकास के लिए केंद्र से और पैसे की दरकार

हरियाणा के वित्त मंत्री कैप्टन अजय सिंह यादव ने मंगलवार को कहा कि लघु एवं मध्यम श्रेणी के शहरों के लिए जवाहर लाल नेहरू राष्ट्रीय शहरी नवीकरण मिशन योजना और शहरी आधारभूत संरचना विकास योजना के तहत आबंटन राशि बढ़ाई जानी चाहिए।

उन्होंने यह मामला केंद्र के समक्ष उठाने के लिए शहरी स्थानीय निकाय विभाग के वित्तायुक्त एवं प्रधान सचिव को निर्देश दिए हैं। वित्त मंत्री यहां वित्त, जनस्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी तथा शहरी स्थानीय निकाय विभागों के अधिकारियों के साथ केंद्र प्रायोजित योजनाओं की समीक्षा बैठक में बोल रहे थे।

प्रदेश सरकार के मुताबिक फरीदाबाद में जवाहर लाल नेहरू राष्ट्रीय शहरी नवीकरण मिशन योजना के तहत 823.39 करोड़ रुपए स्वीकृत किए गए हैं। इस योजना के तहत 190 करोड़ रुपये की राशि खर्च की जा चुकी है। कैप्टन यादव ने कहा कि इस योजना के लिए 5 प्रतिशत राशि केन्द्र सरकार तथा 2 प्रतिशत राशि राज्य सरकार वहन करेगी। इसके अतिरिक्त 30 प्रतिशत राशि नगर निगम फरीदाबाद वहन करेगा।

उन्होंने कहा कि लघु एवं मध्यम श्रेणी के शहरों के लिए शहरी आधारभूत संरचना विकास योजना के तहत इस योजना के अंतर्गत 164 करोड़ रुपए की राशि स्वीकृत की गई है। इसमें से 83.14 करोड़ रुपए की राशि प्राप्त हो चुकी है और इसमें से 45 करोड़ की राशि पहले ही खर्च हो चुकी है।

इस योजना का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि इस योजना के अंतर्गत आठ शहरों जगाधरी, यमुनानगर, बहादुरगढ़, अंबाला कैंट, नारनौल, चरखी दादरी, इंद्री और करनाल में ठोस कचरा प्रबन्धन की आधारभूत संरचना और मल निस्सार संयंत्र बनाए जाएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विकास के लिए केंद्र से और पैसे की दरकार