class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कॉल डिटेल से मिले कई लड़कियों के नंबर

विजयनगर थाना क्षेत्र में हुए दिल्ली पुलिसकर्मी के बेटे संजय नागर (22) की हत्या के खुलासे के लिए पुलिस उससे कर्जा लेने वाले लोगों का ब्यौरा तलाश कर रही है। बताया जाता है कि संजय ने लाखों रुपए ब्याज पर दे रखे थे। जिनका वह हर माह मोटा ब्याज वसूलता था। इसके अलावा वह टेंडर लेने का काम भी करता था। पुलिस ने हत्या के पीछे अवैध संबंध होने की भी आशंका जताई है।


बड़ा हैबतपुर के जंगल में सोमवार को एल्टो कार में मृत मिले संजय नागर के हत्यारों का पुलिस 24 घंटे बाद भी कोई सुराग नहीं लगा सकी है। उसके दोनों मोबाइल नंबरों से पुलिस ने उसकी कॉल डिटेल निकाल ली है। जिससे उसके संपर्को के बारे में पता किया जा रहा है। पुलिस का कहना है कि संजय का परिवार काफी पैसे वाला था। उसने कई जगहों पर ठेके लेने के लिए टेंडर भी डाला हुआ था। पुलिस ने संभावना जताई है कि हो सकता है उसकी टेंडर लेने को लेकर किसी से दुश्मनी हो। संजय की कॉल डिटेल में पुलिस को कई लड़कियों के नंबर मिले हैं। पुलिस के मुताबिक संजय आशिक मिजाज था। हत्या के पीछे अवैध संबंध भी कारण हो सकता है। सीओ फर्स्ट आरके गौतम का कहना है कि पुलिस को अभी तक हत्या के मकसद के सही कारणों का पता नहीं लग सका है। पुलिस हर एंगल से मामले की छानबीन करने में जुटी है। कई लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई है। जल्द से जल्द मामले का खुलासा करने का प्रयास किया जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कॉल डिटेल से मिले कई लड़कियों के नंबर