class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्वाइन फ्लू के 12 नए मामलों की पुष्टि

साइबर सिटी में स्वाइन फ्लू पीड़ितों का आंकड़ा फिर तेजी से बढ़ने लगा है। मंगलवार को स्वाइन फ्लू के एकसाथ 12 नए मामलों की पुष्टि हुई। पीड़ितों में दस स्कूली बच्चें शामिल हैं। अब तक शहर में स्वाइन फ्लू 525 लोगों को अपनी चपेट में ले चुका है। इनमें करीबन 62 फीसदी स्कूली बच्चें हैं। उधर, स्वास्थ्य विशेषज्ञों की मानें तो ठंड बढ़ते ही वायरस के अधिक सक्रिय होने के कारण स्वाइन फ्लू का कहर और अधिक बढ़ने की संभावना है।


गुड़गांव के अग्रणी स्कूल के बच्चें स्वाइन फ्लू की चपेट में लगातार आ रहे हैं। मंगलवार को सेक्टर-45 स्थित डीपीएस स्कूल, एमिटी इंटरनेशन सहित आधा दर्जन अग्रणी स्कूलों के बच्चों के स्वाइन फ्लू की चपेट में आने की पुष्टि की गई। इन नए मामलों के प्रकाश में आने से स्वाइन फ्लू प्रभावित स्कूलों की संख्या 34 से बढ़कर 36 हो गई है। प्रभावित स्कूलों में शिक्षांतर, श्रीराम, स्काटिश हाई, डीपीएस, एमिटी इंटरनेशनल सहित अन्य स्कूल शामिल हैं। जबकि अब तक कुल मामलों में से 330 से अधिक स्कूली बच्चे इसका शिकार बन चुके हैं। नए मामलों में डीएलएफ इलाके के दो एडल्ट इसकी गिरफ्त में आए हैं।

लक्षण दिखने पर बरतें सावधानी: डॉ. थापर
स्वाइन फ्लू से बचाव के लिए गठित सामान्य अस्पताल की रैपिड एक्शन टीम की डॉ. नीलम थापर कहती हैं कि तापमान में गिरावट आने के साथ ही स्वाइन फ्लू पीड़ितों की संख्या में इजाफा हो रहा है। उनके अनुसार बुखार, जुकाम, खांसी, गले में दर्द होने पर एहतियात बरतने की जरुरत है। ये लक्षण होने पर संबंधित व्यक्ति मॉस्क का प्रयोग करें। इसके अलावा बार-बार हाथ धोएं व किसी वस्तु को छूने के बाद नाक व मुंह पर हाथ न लगाएं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:स्वाइन फ्लू के 12 नए मामलों की पुष्टि