class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लाल बत्ती पार करने पर चार लाख लोगों का चालान

ऐसा लगता है कि गाड़ी चलाने के मामले में दिल्ली के ड्राइवर सर्वाधिक बेसब्र होते हैं। लाल बत्ती होने के बावजूद गाड़ी रोके बिना आगे बढ़ जाने पर राजधानी में करीब 4.36 लाख ड्राइवरों का चालान किया गया। यह, शहर में इस साल यातायात नियमों का उल्लंघन करने वालों का उच्चतम आंकड़ा है।
   
इस साल 20 अगस्त तक यातायात नियमों का उल्लंघन करने के आरोप में 22,07,764 व्यक्तियों को पकड़ा गया। इनमें लाल बत्ती होने के बावजूद गाड़ी न रोकने वाले भी शामिल थे और उनकी संख्या 43,6,181 थी। गलत जगह पर गाड़ी पार्क करने वालों की संख्या 3,61,807 थी। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया लोगों में इतना धैर्य ही नहीं होता कि वह लाल बत्ती पर रूक सकें। जैसे ही हरी बत्ती लाल होती है, लोगों को रूक जाना चाहिए, लेकिन वह सड़क पार करना चाहते हैं। ऐसा करने वह न केवल अपनी बल्कि दूसरों की जान भी खतरे में डाल देते हैं।

लाल बत्ती होने के बावजूद गाड़ी न रोकने वालों की संख्या में पिछले साल की इसी अवधि की तुलना में 28.48 फीसदी वृद्धि हुई है। पिछले साल 20 अगस्त तक दिल्ली पुलिस ने लाल बत्ती के बावजूद सड़क पार करने के आरोप में 3,33,017 लोगों का चालान किया था।

स्टॉप लाइन पार करने के मामलों में भी इस साल 29.34 फीसदी की वृद्धि हुई है। गलत स्थान पर पार्किंग करने के मामलों में 84. 05 फीसदी की वृद्धि हुई है। इस आरोप में वर्ष 2009 में 20 अगस्त तक 1,98,381 लोगों का चालान किया गया। पुलिस इसका मुख्य कारण पार्किंग के लिए स्थान का अभाव बताती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लाल बत्ती पार करने पर चार लाख लोगों का चालान