class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हैकर ने ईमेल आईडी हैक कर परिचितों को भ्रमित किया

सहारनपुर में साइबर क्राइम का एक बड़ा मामला सामने आया है। इसका शिकार हुए हैं आईआईटी रुड़की के प्रोफेसर। विदेश के बड़े हैकरों के किसी रैकेट ने उनकी ई-मेल आईडी और पासवर्ड हासिल करके उनके करीब डेढ़ सौ परिचितों को मेल भेजकर सभी से साढ़े तीन हजार डॉलर मंगा लिए। एसएसपी ने मामले की जांच शुरू करा दी है।

जानकारी के अनुसार, सहारनपुर स्थित आईआईटी कैंपस में कार्यरत वरिष्ठ प्रोफे सर डा.मुकेश चंद बंसल की ई-मेल आईडी को किसी विदेश के बड़े रैकेट ने हैक कर लिया। इसके बाद मेल बॉक्स पर पड़े करीब डेढ़ सौ ईमेल एड्रेसेस पर हैकर ने प्रोफेसर की ओर से यह मेल भेज दी कि वह इस समय नाइजीरिया में हैं और उनका सारा पैसा, पासपोर्ट और अन्य सामान चोरी हो गया है।

उन्हें वहां होटल आदि के बिल पेय करने तथा वापस लौटने के लिए साढ़े तीन सौ नाइजीरियन डॉलर की जरूरत है। जिसे वह भारत आने पर लौटा देंगे। विशेष बात यह है कि यह पैसा वेस्टर्न यूनियन मनी ट्रांसफर या मनीग्राम के जरिए मंगाया गया है। इसकी डिटेल व स्केन्ड कॉपी इसी मेल पर वापस मंगाई गई। यह सभी मेल डा.बंसल के परिचितों को सोमवार रात को भेजी गई।

मंगलवार सुबह जब परिचितों ने मेल पढ़ा तो सभी आश्चर्यचकित रह गए। इस तरह की मेल मिलने पर बंगलुरू में रह रहे उनके बेटे आशीष बंसल ने फोन कर घटना के बारे में पिता से पूछा। इसके बाद उनके पास भुवनेश्वर, रुड़की, बंगलुरू व अन्य स्थानों से भी परिचितों और अन्य रिश्तेदारों के फोन आने शुरू हो गए। इतने फोन आए तो प्रोफेसर भी चकरा गए।

जब प्रोफेसर ने अपनी ई-मेल खोलने का प्रयास किया तो वह भी नहीं खुल पाई। हैकर ने उसका पासवर्ड ही बदल दिया। डा.बंसल के मुताबिक उनके अधिकांश मेल एड्रेस उनकी ईमेल बॉक्स में ही पड़े थे। तीन बार से अधिक प्रयास करने पर उनकी मेल-आईडी ही ब्लॉक हो गई।

इसके बाद प्रोफेसर ने घटना की जानकारी एसएसपी को दी। एसएसपी अमित चंद्रा ने बताया कि यह साइबर क्राइम का मामला है। सर्विलांस टीम को जांच में लगा दिया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हैकर ने ईमेल आईडी हैक कर परिचितों को भ्रमित किया