class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ऑब्जेक्टिव टाइप होगी मेडिकल इंट्रेस एग्जाम

सीबीएसई ने ऑल इंडिया मेडिकल इंट्रेस एग्जाम सब्जेक्टिव की बजाए पूर्णत: ऑब्जेक्टिव टाइप कराने का निर्णय लिया है। ऐसा परादर्शिता लाने के लिए किया गया। अगले साल आयोजित होने वाले एग्जाम में इसे लागू कर दिया जाएगा। इस निर्णय का टीचर और स्टूडेंट्स ने स्वागत किया है।

अभी तक एग्जाम में ऑब्जेक्टिव के साथ सब्जेक्टिव प्रश्न पूछे जाते रहे हैं। इसमें सब्जेक्टिव की संख्या अधिक होती थी। अब अगले साल से सिर्फ इंट्रेस एग्जाम में ऑब्जेक्टिव टाइप प्रश्न पूछे जाएंगे। सीबीएसई ऐसा मूल्यांकन के समय पारदर्शिता के लिए कर रहा है। आमतौर पर सब्जेक्टिव टाइप प्रश्न के मूल्यांकन पर गाहे-बगाहे अंगुली उठता रहता है। इसके लागू होने से एग्जाम पारदर्शिता की कसौटी पर खड़ा उतरेगा।

अभी तक तैयारी के दौरान स्टूडेंट्स को दोनों के लिए अलग-अलग तैयारी करनी पड़ती थी। इससे स्टूडेंट्स को परेशानी होती थी। एक पैटर्न के प्रश्न से स्टूडेंट्स टॉपिक पर बेहतर ध्यान दे सकेंगे। इससे सफलता का रेशियो भी बढ़ेगा।

सेक्टर15 ए विद्या मंदिर स्कूल के प्रिंसिपल आनंद गुप्ता के अनुसार स्वागत योग्य कदम है। इससे पारदर्शिता आएगी। स्टूडेंट्स को भी आसानी होगी। ऑब्जेक्टिव टाइप प्रश्न से किसी की योग्यता का सही मूल्यांकन किया जा सकता है। सब्जेक्टिव में पारदर्शिता नहीं रहती है। 

मूल्यांकन में ऊपर-नीचे होने की संभावना बनी रहती है। बारहवीं की छात्र शिखा कहती हैं कि ऑब्जेक्टिव के लिए गहन अध्ययन की आवश्यकता है। इसमें रट्टा नहीं चलता है। यह एक बेहतर कदम है। इससे इंट्रेस एग्जाम क्वालीफाई करने वाले की संख्या में भी बढ़ोतरी होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ऑब्जेक्टिव टाइप होगी मेडिकल इंट्रेस एग्जाम