class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सोनिया ने दलित छेदीलाल को छुड़ाया

दौरे के दूसरे दिन मंगलवार को संसदीय क्षेत्र के भ्रमण पर निकलीं कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को सराय डिघौसा गाँव के दलितों ने बेवजह पुलिस द्वारा प्रताड़ित किए जाने की दास्तान सुनाई। दलितों ने बताया कि गाँव के छेदी लाल पासी को एक सिपाही सोमवार की रात पकड़कर ले गया।

शिकायत पर गंभीर हुईं सोनिया ने साथ चल रहे एएसपी से पूछा-यह सब क्या है? हड़बड़ाए एएसपी ने फौरन थाने में पूछताछ की तो पता चला कि शिकायत सही है। छेदीलाल को छोड़े जाने की सूचना मिलने के बाद ही सोनिया का काफिला आगे बढ़ा।

आईटीआई गेस्ट हाउस में प्रतिनिधिमंडलों से भेंट और फिरोज गांधी इंजीनियरिंग कॉलेज में तीन करोड़ की लागत से तैयार राजीव गांधी छात्रावास के लाकार्पण के बाद सोनिया गांधी का काफिला लालगंज रोड पर बढ़ा। रास्ते में पड़ने वाले सराय डिघौसा गांव के लोग सोनिया के आने की भनक पाकर रोड पर ही खड़े हो गए।

इनमें छेदीलाल पासी के भाई और अन्य परिवारवाले भी थे। हाथ जोड़े खड़े दलितों को देखकर सोनिया गाड़ी से उतर पड़ीं। दलितों ने बताया कि कच्ची शराब का पुश्तैनी धँधा छोड़ने के बावजूद पुलिस परेशान करती रहती है। रात में छापे मारती है। सोनिया ने एएसपी से कहा कि दलितों को बेवजह परेशान न किया जाए।

सोनिया ने अटौरा, किलौली, बदई का पुरवा, कुंडवल गाँवों में विकास योजनाओं के मुआयने के बाद नरपतगंज गाँव में चौपाल लगाकर समस्याएँ सुनीं। यहाँ भीड़ में कुछ अल्पसंख्यकों को देखकर उन्होने पूछा- पढ़ाई के लिए मौलाना आजाद फाउंडेशन से वजीफा मिलता है। उन सबको इसकी जानकारी ही नहीं थी। सोनिया के निर्देश पर किशोरी लाल शर्मा ने बताया कि केंद्र सरकार द्वारा गठित यह फाउंडेशन मुस्लिम बच्चों को पढ़ाई के लिए 20 हजार वजीफा देता है। जिन्हें वजीफा न मिला हो वह फार्म भरकर जमा कर दें।

उन्होने गाँव में प्रथम स्वाधीनता संग्राम के सेनानी राना बेनीमाधव सिंह का जीर्ण-शीर्ण स्मारक देखकर कहा कि सेनानियों का सम्मान हम-सबकी जिम्मेदारी है। साथ चल रहे प्रतिनिधि किशोरी लाल शर्मा से कहा-इस स्थान के सौंदर्यीकरण के लिए युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं से यहाँ श्रमदान कराएँ। पैसे की कमी नहीं होने दी जाएगी। क्षेत्रीय विधायक स्मारक के लिए पैसा देंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सोनिया ने दलित छेदीलाल को छुड़ाया