class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

काम करोगे तो हासिल होगा मुकाम: शामक डावर

काम करोगे तो हासिल होगा मुकाम: शामक डावर

इस रियलिटी शो में आपकी क्या भूमिका है?
 इस शो में मैं बच्चों को डांस के नये-नये स्टेप्स और कोरियोग्राफी सिखा रहा हूं, साथ ही बच्चे स्टेज पर कैसे परफॉर्म करें, इसकी ट्रेनिंग भी दूंगा।

यह रियलिटी शो अन्य शोज से कैसे अलग है?
यहां बच्चों का टेलेंट बाहर लाने के लिए उन्हें पूरा-पूरा सपोर्ट किया जाएगा, साथ ही यहां बच्चे डांस के अलावा ड्रैसिंग सेंस सीखेंगे और अपने चुनिंदा गानों पर ही परफॉर्म करेंगे।

ज्यूरी (किरण खेर, शेखर सुमन, सोनाली बेंद्रे) बच्चों का चुनाव किस आधार पर कर रही है?
हर शो की तरह इस शो के भी कुछ नियम हैं, लेकिन मुझे लगता है कि बच्चों का चुनाव सही तरीके से होना चाहिए, जिसका आधार परफॉरमेंस बेस्ड होना चाहिए

आपकी नजर में इस शो से बच्चों को क्या लाभ होगा?
मुझे लगता है कि यह शो बच्चों को बहुत बड़े स्तर पर मंच उपलब्ध करा रहा है, जिससे बच्चे ऑडिशंस के लिए तैयारी करेंगे।

जो बच्चे विनर या रनअप होते हैं, कुछ समय के बाद अचानक गायब हो जाते हैं। उनके बारे में आपका क्या ख्याल है?
जैसा कि मैंने पहले कहा कि यह शोज बच्चों को ऑडिशंस के लिए तैयार करते हैं। बच्चों को भी सिर्फ शो तक ही सीमित न रहकर लगातार अपने आपको निखारना चाहिए और ज्यादा से ज्यादा प्रैक्टिस करनी चाहिए।

आपके हिसाब से रियलिटी शोज बच्चों के लिए कितने उपयोगी हैं?
मेरे हिसाब से तो बहुत ज्यादा फायदेमंद हैं। इससे बच्चे को नेम-फेम मिलता है, साथ ही बच्चे के अंदर का टेलेंट बाहर आता है। मुझे याद है जब मैं इस फील्ड में उतरा था तो मेरे पास इस तरह का कोई भी मंच नहीं था, जिससे मुझे काफी संघर्ष  करना पड़ा। लेकिन अब मुझे खुशी है कि भारत  में हर स्तर के बच्चों को अपना टेलेंट दिखाने का अवसर मिलता है, जिससे बच्चे अपनी पर्सनेलिटी डेवलप करते हैं। और तो और ये शोज बच्चों को उनके करियर में निर्णय लेने में भी मदद करते हैं।

सफल कोरियोग्राफर बनने के लिए क्या करना चाहिए?
हर फील्ड में संघर्ष है, चाहे वो कोरियोग्राफी की हो या कोई और। और रही बात सफल होने की तो इसके लिए आपको बहुज ज्यादा मेहतन करनी चाहिए। लगातार प्रैक्टिस करनी चाहिए। डांस करना इतना मुश्किल नहीं है, लेकिन आप अगर अपने काम का सम्मान करेंगे, अपने गुरु को सम्मान देंगे तो आपको सफल बनने से कोई नहीं रोक सकता। बाकी सब ईश्वर की इच्छा पर भी निर्भर है।

आप भगवान और किस्मत पर विश्वास करते हैं?
हां, मैं सभी भगवानों को बहुत मानता हूं। मेरा मानना है कि ईश्वर हर जगह है। वही सब कुछ करता है और कहीं न कहीं किस्मत भी आपको बनाती व बिगाड़ती है।

आप अपने अनुभव के बारे में बताइए?
मैं 25 साल से एक टीचर की भूमिका निभा रहा हूं और मानता हूं कि कोई भी बच्च अपने आपको बेहतर रूप से तभी प्रजेन्ट कर पायेगा, जब आप उसे किसी काम के लिए फोर्स न करके उसे सपोर्ट करें और सिर्फ एक निर्देशक की भूमिका निभायें।

आप बच्चों से कुछ और कहना चाहेंगे?
हां, मैं बच्चों से कहना चाहूंगा कि कभी सपने देखना मत छोड़ो। सपने हैं तो एक आशा है। लेकिन आपको सच्चाई से भी रू-ब-रू होना होगा और जो भी करो बहुत मेहनत से, लगन से व धैर्य के साथ करो। हो सके तो कोशिश करो कि हर क्षेत्र में अपने आपको आजमाओ और समय आने पर अपनी प्राथमिकताओं को निर्धारित करो।
शामक डावर इन दिनों ‘इंडियाज गॉट टेलेंट’ रियलिटी शो में प्रतियोगियों को डांस के गुर सिखा रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:काम करोगे तो हासिल होगा मुकाम: शामक डावर