class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ऑर्गेनिक फूड

ऑर्गेनिक फूड ऐसे खाद्य पदार्थो को कहा जाता है जो प्राकृतिक तरीके से उगाए जाते हैं। इनकी खेती में किसी तरह के रासायनिक खाद, कीटनाशक और उर्वरक इस्तेमाल नहीं किए जाते। ऑर्गेनिक फूड में जेनेटिक विधियों का भी इस्तेमाल नहीं किया जाता। लेकिन कुछ जगहों पर इसमें रासायनिक उर्वरकों का इस्तेमाल किया जाता है।

सेहत के साथ-साथ ऑर्गेनिक फूड्स का पर्यावरण पर भी अच्छा प्रभाव पड़ता है। इसके लिए विश्व भर में कई सव्रेक्षण किए गए हैं। सव्रेक्षणों के अनुसार ऑर्गेनिक फार्म्स पर्यावरण में हानिकारक कीटनाशक नहीं छोड़ते। ऐसे कई रासायनिक कीटनाशक मिट्टी, पानी, स्थानीय कृषि भूमि और जलीय जीवन को नुकसान पहुंचाते हैं। इसके अलावा, विभिन्न स्थानों में भी यह अधिक देर तक ठीक रह सकते हैं। प्रति यूनिट उत्पाद के हिसाब से भी इनमें कम ऊर्जा इस्तेमाल होती है।

ऑर्गेनिक फूड उत्पाद के औद्योगिकरण के कारण कई विशेषज्ञ और ऑर्गेनिक फूड क्षेत्र में काम करने वाले अब चाहते हैं कि इसके स्थायित्व की दिशा में काम किया जाना चाहिए।  ऐसा इसलिए क्योंकि इसमें भी परंपरागत कृषि की तरह एक ही फसल पर जोर दिया जाता है।

सच यह है कि ऑर्गेनिक फूड विश्व की खाद्य आपूर्ति का एक से दो प्रतिशत पूरा करते हैं। 1990 के दशक की शुरुआत से ऑर्गेनिक फूड की पैदावार पर जोर दिया गया था जिसके बाद से 2006 में इसकी विश्वव्यापी बिक्री 40 अरब डॉलर तक पहुंच चुकी थी। 2007 के एक वश्विक सव्रेक्षण में बताया गया था कि ऑर्गेनिक फूड दुनिया की बड़ी जनसंख्या की खाद्य आपूर्ति की समस्या को बिना अतिरिक्त कृषि भूमि के इस्तेमाल से पूरी कर सकती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ऑर्गेनिक फूड