class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अरहम एकेडमिक ऑफ कॉमर्स ने रविवार को एमसीएफ ऑडोटोरियल में ‘एकाउंटेंसी चैंपियन ऑफ चैंपियनस’का आयोजन किया। इसमें बड़ी संख्या में जिले के प्राइवेट स्कूलों के छात्रों ने भाग लिया। इसका उद्देश्य छात्रों की प्रतिभा के साथ-साथ करियर को लेकर आने वाली उलझनों को सुलझना भी था। करियर काउंसलर विपुल जन ने करियर संबंधी छात्रों के उलझन को दूर किया। सबसे अधिक छात्रों ने कॉमर्स और मैनेजमेंट से संबंधित प्रoA पूछे। सिविल सर्विस में जने का तरीका छात्रों ने पूछा। बीकॉम के बाद लॉ की पढ़ाई करियर के दृष्टिकोण से ठीक हो

सकती है कि नहीं। इस संबंध में बड़ी संख्या में प्रoA पूछे गए। काउंसलर जन ने कहा कि मार्केट के अनुसार मौके को ध्यान में रख सब्जेक्ट का सलेक्शन कराना चाहिए। ताकि किसी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े। इस मौके पर बड़ी संख्या में पैरेंट्स भी मौजूद थे। उन्होंने कहा कि पैरेंट्स को कोर्स सेलेक्शन में स्टूडेंट्स पर दबाव बनाने से बचना चाहिए। इस तरह दबाव बनाने से इनकी मनोस्थिति बदलती है। इसका नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। जन ने बताया कि इंफ्रास्ट्रक्चर और रीयल एस्टेट में काफी संभावनाएं है। मंदी के कारण इन पर ब्रेक लगा है। इसके बावजूद आने वाला समय इन दोनों क्षेत्रों का है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:करियर काउंसलर ने सुलझया,छात्रों की उलझन