class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिल्ली मेट्रो का पुल गिरा, 5 मरे व 15 घायल

दिल्ली मेट्रो का पुल गिरा, 5 मरे व 15 घायल

दक्षिणी दिल्ली इलाके में रविवार तड़के दिल्ली मेट्रो निगम के एक निर्माणाधीन पुल का एक हिस्सा गिर जाने की वजह से 5 मजदूरों के मरने तथा 14 से अधिक लोगों के घायल होने का समाचार है। घायलों में से पांच की हालत बेहद गंभीर बताई जाती है।

सूत्रों के अनुसार इस पुल के डिजाइन में कथित तौर पर कुछ खामियों को लेकर विवाद चल रहा था तथा पुल के कुछ खंभों में दरारें भी पड़ गईं थी। घटना में घायल हुए लोगों को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती कराया गया है।

सूत्रों के अनुसार घटना में कुछ लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका है जिन्हें निकालने का काम जारी है। हालांकि घटनास्थल पर मौजूद बचाव अधिकारियों ने आशंका व्यक्त की है कि भारी कंक्रीट के टुकड़ों के नीचे लोगों के दबे होने की वजह से उनके बचे होन ेकी संभावना कम ही लगती है। हादसे के वक्त निर्माण स्थल पर लगभग 40 मजदूर काम कर रहे थे।

उच्च पदस्थ सूत्रों के अनुसार दिल्ली सरकार ने इस मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं, लेकिन अभी आधिकारिक तौर पर इसकी घोषणा नहीं की गई है। दिल्ली मेट्रो रेल निगम के प्रवक्ता अनुज दयाल ने घायलों की संख्या 8 से 9 बताई है तथा कहा है कि दो घायलों की स्थिति गंभीर है।

दयाल ने कहा कि क्षेत्र में राहत एवं बचाव कार्य जारी है। उन्होंने स्वीकार किया कि पुल के डिजाइन को लेकर कुछ विवाद था जिसे हल करने की कोशिश की जा रही थी, लेकिन इसी बीच यह हादसा हो गया। लेकिन वहां मौजूद कुछ चश्मदीदों ने इस संवाददाता को बताया कि पुल के कुछ खंभों में दरारें पड़ गई थीं तथा कुछ और भी खामियां स्पष्ट नजर आ रही थीं, जिस पर मेट्रो अधिकारियों का ध्यान दिलाया गया था। दयाल ने बताया कि जिस हिस्से में यह हादसा हुआ है वहां सड़क को बंद कर दिया गया है।

इलाके के पुलिस उपायुक्त एसएएन श्रीवास्तव के अनुसार बचाव तथा राहत कार्य जारी है। सड़क बंद होने की वजह से इस तरफ आने वाले ट्रैफिक को दूसरी तरफ मोड़ दिया गया है। उन्होंने कहा कि इस सड़क पर दोबारा यातायात शुरू करने में दो-तीन दिन लग सकते हैं ा। वरिष्ठ अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं तथा बचाव कार्य जारी है।

हादसा दक्षिणी दिल्ली के ग्रेटर कैलाश क्षेत्र के जमरुदपुर इलाके में सुबह साढे¸ पांच बजे हुआ जब पुल बनाने के लिए कंक्रीट का स्लैब रख रही मेट्रो की क्रेन टूट गई, जिससे निर्माणाधीन पुल का कुछ हिस्सा स्लैब सहित नीचे आ गिरा। प्रारंभिक जानकारी के अनुसार हादसे में घायल होने वालों में वहां काम कर रहे मजदूर और वहां से गुजर रहे कुछ अन्य लोगों के होने की आशंका हैं। सूत्रों ने आशंका जताई है कि घायलों की संख्या बढ़ सकती है।

सूत्रों के अनुसार सुबह साढे¸ पांच बजे के आसपास हुई इस दुर्घटना में निर्माणाधीन मेट्रो रेल पुल के दो खंभों के बीच का हिस्सा गिरा जिससे पास की एक पानी की पाइप लाइन फट गई। पानी के इस पाइप के फट जाने से घटनास्थल के आसपास जल का भारी जमाव हो गया, जिससे राहत और बचाव कार्यों ंमें बाधा आ रही है।

पुलिस और दमकल विभाग के कर्मचारी भी राहत कार्यों में जुट गए हैं। आशंका है कि मलबे के नीचे कुछ और मजदूर दबे हुए हैं जिन्हें निकालने के लिए गैस कटर का इस्तेमाल किया जा रहा है। गौरतलब है कि गत अक्तूबर में भी ऐसा ही एक हादसा दिल्ली के लक्ष्मीनगर इलाके में हुआ था, जब पुल बनाने के लिए स्लैब उठा रही क्रेन एक बस पर गिर पड़ी थी।


घटनास्थल पर स्लैब के पाइपलाइन पर गिर जाने से इलाके के कुछ हिस्सों में पानी भर गया है, जिससे क्षेत्र में पानी की आपूर्ति पर भी असर पड़ा है। गौरतलब है कि यह इलाका राजधानी के व्यस्ततम इलाकों में माना जाता है जहां कई स्कूल हैं, लेकिन रविवार की सुबह होने की वजह से यातायात काफी कम था नहीं तो हादसे की गंभीरता और बढ़ सकती थी।

इलाके में रहने वाले एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि पुल गिरने की तेज आवाज आई। एक दूसरे प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि पुल उसके सामने ही गिरा और पुल गिरने के वक्त मजदूरों के जोर से चिल्लाने की आवाज आई। इस प्रत्यक्षदर्शी के अनुसार पुल गिरने के तुरंत बाद वहां अफरा-तफरी का माहौल हो गया और आसपास मजदूरों की भीड़ इकट्ठा हो गई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दिल्ली मेट्रो का पुल गिरा, 5 मरे व 15 घायल