class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुआज के दूसरे जन्मदिन दुआ के लिए उठे लाखों हाथ। सैंकड़ों लोगों ने मुआज के घर फोन कर उसके दादाजी को मदद देने की बात की। हिंदुस्तान में मुआज की खबर छपने के बाद सारे इलेक्ट्रॉनिक चैनल्स ने भी इसे प्रमुखता के साथ कवर किया। देश के प्रमुख मेडिकल रिसर्च संस्थान एम्स के ट्रामा सेंटर ने भी मुआज के केस में दिलचस्पी दिखाई हैं। एम्स के एक्सपर्ट की टीम मुआज के रोग पर शोध करेगी।

इस संदर्भ एम्स की पीआरओ निर्मल ठाकुर ने बताया कि एम्स के ट्रॉमा सेंटर में इस किस्म के चुनौतीपूर्ण केस पर रिसर्च होता है। हमने जबसे जन्म हुआ तबसे लेकर अबतक इलाज की फाइल के साथ डा. अखलाक अहमद को विशेषज्ञों के साथ मीटिंग के लिए बुलाया है।

 मुआज के दादाजी डा. अखलाक अहमद ने बताया कि जबसे मुआज के बारे में लोगों ने जना है हमारे घर लोगों का तांता लगा है। शनिवार की सुबह तक  गल्फ कंट्रीज और देश के कई हिस्सों से सैकड़ों फोन आए लोग वित्तीय मदद करना चाहते हैं। लोगों ने प्रार्थनाएं की है। लोगों ने मन्नतें मांगी है। हर किसी ने कहा कि हम आपके साथ हैं। बहरीन से भारतीय मूल के एक सज्जन ने गुजरिश की है कि मैं आपके एकाउंट में 80 लाख डाल देता हूं आप बच्चे का इलाज कराइएं। इनकी औलाद नहीं है और ये तेल कंपनी के मालिक है।

ऐसे ही फोन सउदी अरब और अन्य गल्फ देशों से आए हैं। लखनऊ, गुजरात, बंग्लुरू आदि देश के कई हिस्सों से लोगों ने फोन  करके डा. अहमद को वित्तीय मदद की पेशकश की है। डा. अहमद ने कहा कि मैंने फिलहाल हाथ जोड़कर लोगों से दुआ करने की अपील की है। पहले बच्चे के इलाज का कोई रास्ता निकले इसके बाद ही इस किस्म के मदद की जरूरत होगी। उन्होंने मीडिया समेत सभी चितिंत लोगों को  मुआज के बारे में दिलचस्पी लेने और उसके लिए प्रार्थना के लिए शुक्रिया अदा किया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दुआ के लिए उठे लाखों हाथ