class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जरदारी को ठेस नहीं पहुंचाना चाहता थाः पीएम

जरदारी को ठेस नहीं पहुंचाना चाहता थाः पीएम

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने शनिवार को स्पष्ट किया कि उनकी मंशा रूस के येकातेरिनबर्ग में मीडिया की मौजूदगी में आतंकवाद संबंधी टिप्पणी कर पाकिस्तान के राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी की भावनाओं को आहत करने की नहीं थी।

प्रधानमंत्री ने मीडिया की मौजूदगी में कहा था कि पाकिस्तान को भारत के खिलाफ आतंकवाद पर काबू करने की जरूरत है। उनकी इस टिप्पणी की गूंज आज भी दोनों पक्षों में सुनाई देती है। प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं मीडिया की मौजूदगी में वह टिप्पणी नहीं करना चाहता था। मुझे मीडिया की मौजूदगी का ध्यान ही नहीं रहा।

मुंबई आतंकवादी हमलों के बाद दोनों देशों के शीर्ष नेताओं की पहली मुलाकात के दौरान प्रधानमंत्री की ओर से की गई इस टिप्पणी को मीडिया ने प्रसारित कर दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जरदारी को ठेस नहीं पहुंचाना चाहता थाः पीएम