class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एयर इंडिया के विनिवेश का कोई प्रस्ताव नहीं

एयर इंडिया के विनिवेश का कोई प्रस्ताव नहीं

केंद्र सरकार ने गुरुवार को स्पष्ट शब्दों में कहा कि एयर इंडिया का विनिवेश करने का कोई प्रस्ताव नहीं है।

नागर विमानन मंत्री प्रफुल्ल पटेल ने लोकसभा में तृणमूल कांग्रेस के सुदीप बंदोपाध्याय और कांग्रेस के मिलिंद देवड़ा के सवालों के जवाब में कहा कि एयर इंडिया और एयरपोर्ट अथारिटी के विनिवेश का कोई प्रस्ताव सरकार के पास नहीं है।

बंदोपाध्याय ने आशंका जताई थी कि प्रमुख हवाई अड्डों के आधुनिकीकरण के बाद उनका विनिवेश कर दिया जाएगा। पटेल ने भारतीय विमान पत्तन प्राधिकरण द्वारा कुछ हवाई अडडों पर यात्रियों से विमान पत्तन विकास शुल्क वसूले जाने संबंधी तथागत सत्पथी के मूल सवाल के जवाब में कहा कि ऐसा कोई शुल्क नहीं वसूला जा रहा है लेकिन दिल्ली और मुंबई हवाई अड्डों पर यह शुल्क जरूर लिया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि रिसरेसेज आफ एविएशन रिड्रेसल एसोसिएशन ने विकास शुल्क की वसूली का विरोध किया है। इस संबंध में

एसोसिएशन द्वारा दिल्ली उच्च न्यायालय में एक रिट याचिका भी दाखिल की गई है। पटेल ने बताया कि हाल ही में नियामक प्राधिकरण गठित किया गया है और अब हवाई अड्डा प्राधिकरण के बजाय यह नियामक प्राधिकरण इस प्रकार के सभी मामलों को देखेगा। उन्होने कहा कि इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर नया टर्मिनल अप्रैल 2010 तक शुरू होने की संभावना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एयर इंडिया के विनिवेश का कोई प्रस्ताव नहीं