class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वैज्ञानिकों ने प्रयोगशाला में बनाया मानव शुक्राणु

वैज्ञानिकों ने प्रयोगशाला में बनाया मानव शुक्राणु

पुरुष बंध्यता के  मामलों में क्रांतिकारी व ऐतिहासिक परिवर्तन लाते हुए वैज्ञानिकों ने पहली बार प्रयोगशाला में कृत्रिम रूप से मानव शुक्राणु बनाने का दावा किया है।


‘न्यू साइंटिस्ट’ की रिपोर्ट के  अनुसार न्यूकैसल विश्वविद्यालय के  वैज्ञानिकों के एक दल ने दावा किया है कि उन्होंने नर एम्ब्रयोनिक स्टेम सेल को पहले जर्मलाइन स्टेम सेल में परिवर्तित किया, जिन्हें बाद में विभिन्न प्रक्रियाओं द्वारा स्पर्म सेल का रूप दिया गया।

वैज्ञानिकों का कहना है कि अगर आगे के  परीक्षणों ने प्रयोगशाला में बनाए इन स्पर्म को प्राकृतिक स्पर्म की तरह सिद्ध कर दिया तो इससे पुरुषों की बंध्यता के  मामलों में बहुत सहायता मिल सकेगी। उन्होंने कहा कि अभी महिलाओं की कोशिकाओं से शुक्राणु बनाने की संभावना का भी अध्ययन किया जा रहा है, जिससे लेस्बियन महिलाओं में बच्चा पैदा करने की संभावना पैदा की जा सकेगी।

इसके  पहले दल ने 2006 में प्रयोगशाला में बनाए चूहे के  शुक्राणु से सात बच्चे पैदा करने में सफलता पाई थी, लेकिन ये सातों तकनीकी गड़बड़ियों के  कारण पांच महीने में ही मर गए थे। लेकिन इस बार के अध्ययन में वैज्ञानिकों ने चूहों में पिछली बार की गड़बड़ियों को दूर कर दिया है। वैज्ञानिक अब मानव शुक्राणु के  साथ उसी तरह का प्रयोग करने में जुटे हैं, जो उन्होंने चूहों में किया। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वैज्ञानिकों ने प्रयोगशाला में बनाया मानव शुक्राणु