class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विकासशील देशों को मदद की दरकार: पीएम

विकासशील देशों को मदद की दरकार: पीएम

प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने बुधवार को खाद्य पदार्थों की ऊंची कीमत पर जी-8 और जी-पांच शिखर सम्मेलन में उपस्थित नेताओं का ध्यान आकृष्ट कराते हुए कहा है कि विकासशील देशों में भी वित्त का उचित प्रवाह होना चाहिए।

डॉ. सिंह ने जी-पांच के नेताओं के साथ संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि वर्तमान आर्थिक मंदी से सबसे बुरा प्रभाव विकासशील देशों पर पड़ा है। इसके अलावा संगठन के सदस्यों ने इस बात पर सहमति जताई कि अंतरराष्ट्रीय एजेंडे में खाद्य सुरक्षा और कृषि को प्राथमिकता से शामिल किए जाने की आवश्यकता है।

साथ ही उन्होंने कहा कि जी-पांच के देश पर्यावरण संरक्षण के प्रति अपने उत्तरदायित्व से भली भांति परिचित हैं। उन्होंने जोर देकर क हा हम सबको मिलकर विकास के एक ऐसी योजना का इजाद करना चाहिए जो कि पर्यावरण को हानि पहुंचाए बिना ही उच्चतर स्तर के जीवन यापन में मददगार हो।

डॉ. सिंह ने कहा कि भारत ग्रीन टेक्नोलॉजी का विकास करने को लेकर इस वर्ष अक्टूबर माह में एक कांफ्रेंस का आयोजन करेगा। उन्होंने कहा कि जी-पांच देशों का घोषणा पत्र विकासशील देशों की आवश्यकताओं को ध्यान में रखकर बनाया गया है। उनका मानना है कि वैश्विक चुनौतियों का सामना करने के लिए सभी देशों को सम्मिलित रूप से प्रयास करना होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विकासशील देशों को मदद की दरकार: पीएम