class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कैब चुनावों में डालमिया का पलड़ा भारी

कैब चुनावों में डालमिया का पलड़ा भारी

बंगाल क्रिकेट संघ (सीएबी) के चुनाव में एक महीने का समय शेष है और मौजूदा अध्यक्ष जगमोहन डालमिया को चुनौती देने के लिए उनका विरोधी खेमा खुद को तैयार नहीं कर पाया है। हालांकि वह किसी बड़े नाम की तलाश में जुटा हुआ है।

डालमिया के चुनौती देने वालों में कई नामों की अटकलें हैं। भारतीय टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली, पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सोमनाथ चटर्जी और केंद्रीय पर्यटन राज्यमंत्री सुल्तान अहमद का नाम प्रमुख है। परंतु विरोधी खेमा इनमें से किसी एक को भी डालमिया के सामने खड़ा करने के लिए तैयार नहीं कर पाया है।

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद के पूर्व अध्यक्ष डालमिया ने कहा, ‘‘मुझे इस बारे में कुछ भी पता नहीं है कि विपक्षी खेमा चुनाव लड़ेगा या नहीं। हालांकि अब तक किसी की ओर से कोई सार्वजनिक बयान नहीं आया है कि वह मेरा खिलाफ या किसी अन्य पद के लिए चुनाव लड़ रहा है।’’

गांगुली से जुड़े सूत्रों ने बताया कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के साथ अपनी प्रतिबद्धताओं की वजह से सीएबी के अध्यक्ष के चुनाव में उन्हें रुचि नहीं है।

अहमद ने कहा, ‘‘लोगों ने मुझसे चुनाव लड़ने के बारे में कहा था। परंतु मेरी इच्छा नहीं है। मैं सीएबी के लिए समय नहीं निकाल पाउंगा।’’

उधर, सूत्रों का कहना है कि पूर्व टेस्ट क्रिकेटर सुजान मुखर्जी ही एकमात्र नाम है जिसे डालमिया का विरोधी खेमा संयुक्त सचिव के पद के लिए तय कर पाया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कैब चुनावों में डालमिया का पलड़ा भारी