class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गुरु पूर्णिमा धूमधाम से मनाई

आशिर्वाद पब्लिक स्कूल में गुरुपूर्णिमा महोत्सव धूमधाम से मनाया गया। इस मौके पर शोभायात्रा निकाली गई। जिसमें स्कूली छात्रों और महिलाओं ने भाग लिया। यात्रा में बाल कृष्ण झांकी ने सबका मन मोह लिया।
 इस अवसर पर मध्य प्रदेश से आए राकेश रामानूजचार्या और प्रदीप गौतम ने पूजा-अर्चना की।


‘गुरु बह्मा, गुरु विष्णु गुरु देवो महेश्वर’ के मंत्रोउच्चराण के बाद प्रवचन शुरु किए गए। गुरु पूर्णिमा का महत्व बताते हुए देवी ने कहा कि यह पूर्णिमा साल की श्रेष्ठ पूर्णिमा है। यह हमें भक्ति मार्ग पर ले जाती है। गुरु को भगवान का दर्जा दिया गया है। गुरु भक्तों को भक्ति का मार्ग दिखाता है। गुरु का ध्यान कर मनुष्य के सभी रास्ते खुल जाते हैं। प्रवचन में आगे उन्होंने बताया कि मनुष्य को अपने गुरु के प्रति सच्ची श्रद्धा रखनी चाहिए।


उन्होंने कहा मैं गुरु नहीं हूं। बावजूद इसके मेरे भीतर गुरु के लिए आदर भाव है। गुरु ने ही मुझे ईश्वर भक्ति का मार्ग दिखाया है। उन्होंने ही ईश्वर का गुणगान कर मुझे उनके  महत्व से अवगत कराया गया। उन्होंने भक्तों को गुरु के प्रति सच्ची आस्था बनाए रखने के लिए कहा। उन्होंने कहा गुरु की दीक्षा उसकी सच्ची आस्था है। उसके प्रति परम स्नेह है। 
-चंचल सिंह

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गुरु पूर्णिमा धूमधाम से मनाई