class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाक पर भारत का 60 साल से 300 करोड़ का कर्ज

पाक पर भारत का 60 साल से 300 करोड़ का कर्ज

पाकिस्तान से भारत को अभी भी बंटवारे के पहले के 300 करोड़ रूपये का कर्ज वसूलना है। यह कर्ज तब से साल दर साल जस का तस बना हुआ है और सरकारी बजट में इसे देनदारी विषय के तहत दर्शाया जाता है।

बजट में इसका जिक्र पाकिस्तान पर बंटवारे के पूर्व के कर्ज की हिस्सेदारी की राशि के रूप में किया गया है और राशि 300 करोड़ रूपये दिखायी जाती है। पाकिस्तान ने भले ही कर्ज की यह रकम अब तक न चुकायी हो लेकिन भारत ने बंटवारे के पूर्व के अपने 50 करोड़ रूपये के ऋण का भुगतान 1947 में ही कर दिया था।

आजाद भारत में पहली बार 1950-51 के बजट में इस 300 करोड़ रूपये को देनदारी के रूप में पाकिस्तान पर दिखाया गया था और यह कर्ज तभी से जस का जस बना हुआ है। हैरत की बात यह है कि भारत ने इस रकम पर अपने खातों में ब्याज की दर नहीं जोड़ी है।

केन्द्र सरकार की 34, 95, 452 करोड़ रूपये की देनदारियों को देखें तो यह रकम केवल 0.008 प्रतिशत यानी काफी मामूली है।

वर्ष 1950-51 में यह हालांकि भारत की कुल 2865.40 करोड़ रूपये की देनदारी के दस प्रतिशत से अधिक थी और भारत के कुल 32 करोड़ रूपये के विदेशी कर्ज का लगभग दस गुना थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पाक पर भारत का 60 साल से 300 करोड़ कर्ज