class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अयोध्या में ओवन निर्माण के क्षेत्र में पहला स्थान हासिल करने की संभावनाएं

एशिया में बिस्कुट बनाने की मशीन(ओवन) के निर्माण में पहले और विश्व में छठे स्थान पर काबिज देश का अयोध्या नगर पर्याप्त सरकारी सहायता और संसाधन मिलने पर दुनिया में पहला स्थान हासिल करने की क्षमता रखता है।

इस उद्योग से जुडे अजान्स एंटरप्राइजेज कम्पनी के मालिक अख्लाक अहमद खान ने कहा कि सीमित संसाधनों के बावजूद ओवन के निर्माण में लगे अयोध्या के लोगों ने इस क्षेत्र का नाम दुनिया में रौशन किया है लेकिन बिजली की किल्लत और (इंस्पेक्टर राज) की वजह से उन्हें काम करने में काफी दिक्कतें आ रही हैं। यदि सरकार इस ओर ध्यान देकर पर्याप्त सहायता और समुचित संसाधन उपलब्ध कराए तो यहां से यूरोपीय देशों को भी इन मशीनों की आपूर्ति बढ़ सकती है और यह शहर इस क्षेत्र में एशिया की तरह विश्व में भी पहला स्थान हासिल कर सकता है।
 

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में मूल्यवर्धित कर (वैट) बारह प्रतिशत है जबकि देश के अन्य भागों से राज्य में आने वाली मशीनों पर मात्र तीन प्रतिशत वैट लगता है। इस वजह से राज्य में मशीनों के आर्डर बमुश्किल मिल पा रहे हैं। हालांकि उन्होंने माना कि राज्य से बाहर मशीन भेजने पर उन्हें भी तीन प्रतिशत की दर से ही वैट देना पड़ता है।

सन 2004 में लघु उद्योग के लिए प्रथम पुरस्कार हासिल कर चुके खान ने दावा किया कि पहले ओवन विदेशों से खरीदी जाती थीं लेकिन यहां बढे काम की वजह से अब मशीनें न के बराबर आयात होती हैं। उन्होंने कहा कि अब तो यहां से मशीनें विदेश निर्यात की जा रही हैं। इससे बडी़ संख्या में विदेशी मुद्रा का बाहर जाना रुक गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अयोध्या ओवन निर्माण में पहला स्थान हासिल करने की संभावनाएं