class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

साल भर से काट रहा अफसरों के चक्कर

साल भर से एक युवक साढू के चंगुल से अपनी पत्नी को वापस दिलाने की गुहार लगाता घूम रहा है। मगर किसी भी जगह पर उसकी सुनवाई नहीं हो रही है। थक-हारकर उसने अब प्रदेश की मुख्यमंत्री से पत्नी वापस दिलवाने की गुहार लगाई है।


खुद को बसपा कार्यकर्ता बताने वाला यह युवक गौतमबुद्ध नगर के अट्टा गुजरान गांव का सुनील गौतम है। उसने मुख्यमंत्री को शिकायत भेजकर कहा कि उसकी शादी 26 जुलाई 2008 को गौतमबुद्ध नगर की ही रायपुर बांगर गांव की रीता पुत्री जयवीर सिंह से अखिल भारतीय बौद्ध सभा ने बिना दहेज से जटवाड़ा स्थित सिद्धार्थ पब्लिक स्कूल में संपन्न कराई थी। जिसमें समाज के कई बड़े लोग उपस्थित थे। मेरी पत्नी को मेरी मर्जी के बिना उसका जीजा, उसका भाई और रिश्तेदार जन्मदिन के बहाने ले गए। तभी से वह अपनी पत्नी को वापस दिलाने को चक्कर काट रहा है। उसे जान से मारने का भी प्रयास किया जा चुका है। सुनील ने आरोप लगाया कि तीन जुलाई 2009 को जब वह अपनी ससुराल गया तो उसके ससुरालियों बदसलूकी करते हुए जान से मारने की धमकी दी और भगा दिया। शादी कराने वाली संस्था गुहार लगाने के बाद भी कोई हल नहीं निकला। उसने मुख्यमंत्री से दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने, खुद को सुरक्षा दिलाने और पत्नी वापस दिलाने की मांग की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:साल भर से काट रहा अफसरों के चक्कर