class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

6000 शिक्षकों की होगी नियुक्ति

बिहार के मानव संसाधन मंत्री हरि नारायण सिंह ने शुक्रवार को कहा कि राज्य के दर्जा बढ़ाये गये उन 555 उच्च माध्यमिक विद्यालयों में लगभग 6000 शिक्षकों की नियुक्ति की प्रक्रिया चल रही है। जहां आधारभूत संरचनाओं का विकास किया जा चुका है। यह प्रक्रिया अगले दो माह में पूरी कर ली जायेगी।


बिहार विधान परिषद में शुक्रवार को राजद के मुंद्रिका सिंह यादव के प्रश्न का उत्तर देते हरि नारायण सिंह ने कहा कि राज्य के उच्च माध्यमिक विद्यालयों में शिक्षकों की नियुक्ति चरणबद्ध तरीके से की जा रही है । इसी क्रम में वित्तीय वर्ष 2005-06 एवं 2006-07 में उत्क्रमित 2604 उच्च माध्यमिक विद्यालयों में से 555 में लगभग 6000 उच्च माध्यमिक शिक्षकों की नियुक्ति की जा रही है। इन विद्यालयों में भवन सहित अन्य आधारभूत संरचनाओं का विकास किया जा चुका है ।


मानव संसाधन मंत्री ने नवल किशोर यादव के प्रश्न का उत्तर देते हुए कहा कि वित्त रहित डिग्री महाविद्यालयों को मात्र अनुदान देने संबंधी निर्णय सरकार द्वारा लिया गया है। यादव ने अपने प्रश्न में कहा था कि 21 नवंबर 2008 को जारी मानव संसाधन विभाग के संकल्प संख्या 1846 के अनुसार वित्तरहित महाविद्यालयों में वित्तरहित शिक्षा नीति समाप्त कर दी गयी है।
   

उन्होंने कहा कि वित्तरहित शिक्षा नीति समाप्ति प्रपत्र में सभी संबद्ध महाविद्यालयों को निजी डिग्री महाविद्यालय कहा गया है जिससे वे यूजीसी द्वारा मिलने वाली अन्य सुविधाओं से वंचित हो गए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:6000 शिक्षकों की होगी नियुक्ति