class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एण्टी करप्शन टीम ने की कार्रवाई, रामपुर पीएचसी पर था तैनात

भ्रष्टाचार निवारण टीम वाराणसी ने गुरुवार को रामपुर प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर तैनात एक फार्मासिस्ट को घूस लेते रंगेहाथ धर दबोचा। फार्मासिस्ट पर आरोप है कि वह प्रत्येक आशा कार्यकर्ता को जननी सुरक्षा योजना के तहत मिलने वाले पैसे में जबरन हिस्सा लेता था।

फार्मासिस्ट राकेश प्रकाश मिश्र चंदौली जिले के बुलआ थाना क्षेत्र के डेवड़ा गांव का निवासी है। रामपुर पीएचसी की आशा कार्यकर्ता निर्मला पाण्डेय ने चार दिन पहले भ्रष्टाचार निवारण टीम वाराणसी के यहां शिकायत की कि कार्यकत्रिओं को जननी सुरक्षा योजना के अंतर्गत प्रति प्रसव छह सौ रुपये मानदेय चेक के जरिये मिलता है।

फार्मासिस्ट राकेश प्रकाश चेक देने से पहले दो सौ रुपये ले लेता है। आशा का आरोप था कि पिछले एक वर्ष में उसने नौ प्रसव कराये थे। दो बार में उसे 18 सौ और 24 सौ रुपये के चेक दिये गये थे। 12 सौ रुपये का एक चेक बाकी था जिसे देने के लिए फार्मास्टि 18 सौ रुपये की मांग कर रहा था।

इस पर एण्टी करप्शन टीम के उपाधीक्षक गोरखनाथ सिंह सदस्य जब आसपास मौजूद थे तो निर्मला ने राकेश प्रकाश मिश्र को 18 सौ रुपये दिया। उसी समय टीम ने उसे पकड़ लिया। नोट में रासायनिक पावडर लगे होने से हाथ धुलवाते ही हाथ लाल हो गया।

टीम उसे थाने लायी और लिखा-पढ़ी के बाद गिरफ्तार कर लिया गया। थाने में तलाशी के दौरान राकेश के पास सात हजार रुपये और मिले। भ्रष्टाचार निवारण टीम में इंस्पेक्टर मोहन लाल, वशिष्ठ यादव, रामदरश यादव, उपनिरीक्षक जीडी जोशी, आरक्षी नरेन्द्र ¨सह, महिमा पाण्डेय, दुर्गा प्रसाद और भीम प्रसाद शामिल थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जौनपुर में घूस लेते फार्मासिस्ट गिरफ्तार