class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सत्तर से ज्यादा संस्थाएं मिलकर कर रही हैं काम, मेरठ समेत वेस्ट यूपी में हाथ बंटा रही है संकल्प संस्था

केस एक - तारापुरी निवासी रमेश और शामो का छोटा बेटा मेजर (10 साल) 27 मार्च 2009 को घर से भाग गया था। गाजियाबाद के ढाबे पर काम कर रहा था। संकल्प संस्था के एक कार्यकर्ता ने उसकी पूरी जानकारी तस्वीर समेत वेबसाइट पर 28 अप्रैल 2009 को अपलोड की।

उसी दिन उसके मां-बाप को उसकी जानकारी दे दी गई। बाद में उसे ढाबे से लाकर मां-बाप को सौंप दिया गया।
केस दो - राजू यादव (11) तेरह जनवरी 2009 को मेरठ के टीपी नगर से बरामद हुआ।

उसकी तस्वीर व उसकी डिटेल वेबसाइट पर अपलोड कर दी गई। अगले ही दिन इलाहाबाद से उसके परिजनों का फोन आ गया। एक और बिछड़ा बेटा अपने घरवालों को मिल गया।

केस तीन - विवेक गौतम (13) छह अप्रैल को बागपत अड्डे से बरामद हुआ। उसी दिन उसकी जानकारी और फोटो वेबसाइट पर अपलोड कर दी गई। अपलोड करते ही पता चला कि उसके पिता संजय कुमार है जो गोरखपुर के रहने वाले हैं। वहां के थाने में इसकी गुमशुदगी रिपोर्ट दर्ज थी। वहां फोन किया गया। विवेक आप अपने घरवालों के साथ रह रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिछड़े बच्चों को अपनों से मिला रही है वेबसाइट