class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ब्रिटेन में जबरन ब्याह दी जाती हैं भारतीय लड़कियां

ब्रिटेन में जबरन ब्याह दी जाती हैं भारतीय लड़कियां

ब्रिटेन के एक सरकारी रिपोर्ट से यह खुलासा हुआ है कि भारतीय उपमहाद्वीप की लड़कियां ब्रिटेन में जबरन ब्याह दी जाती हैं और अधिकतर मामलों में यह पारिवारीक प्रतिष्ठा को बचाए रखने के नाम पर होता है।

ब्रिटेन के बाल, स्कूल और परिवार विभाग ने इस सरकारी अध्ययन को प्रकाशित किया है। इसमें बताया गया है कि ज्यादातर मामलों में पाकिस्तान और बांग्लादेश की ये पीडित लड़कियां नाबालिग होती हैं। अध्ययन में दावा किया गया है कि दूसरे धर्म और संस्कति के लड़कों से खुलकर उन्हें मिलने देने की बजाए पारिवारिक प्रतिष्ठा के नाम पर जबरन उनपर ऐसी शादियां थोप दी जाती हैं। बाद में ऐसी जबरन शादियों का हवाला दूसरों को समझाने में किया जाता है।

डेली टेलीग्राफ को इस विभाग के एक मंत्री क्रिस ब्राएंट ने बताया कि सरकार ऐसे रिवाजों को रोकने और पीड़ितों को बचाने के लिए संकल्पित है। आधुनिक समाज में यह कहीं भी स्वीकार्य नहीं।

अध्ययन के मुताबिक युवतियों को छुटिटयों में घुमाने के नाम पर वहां ले जाकर पासपोर्ट और अन्य दस्तावेज को छीन उनकी जबर्दस्ती शादी कर दी जाती है। कुछ मामलो में तो ड्रग्स और हिंसा का भी इस्तेमाल किया जाता है।
   

अध्ययन में कहा गया है कि जबरन विवाह के ऐसे मामले प्रकाश में नही आते। वे लड़कियां शिकायत न कर दें इस डर से उन्हें स्कूलों से हटा दिया जाता है। वे किसी से सहायता नही ले पातीं। इंग्लैंड में पिछले साल जबरन विवाह के आठ हजार मामले दर्ज किए गए थे। वहां के कुछ समुदाय ऐसी घटनाओं के होने से इंकार करते हैं या फिर इन जबरन विवाहों के विरोध को नस्लवाद का नाम देते हैं। अध्ययन में हिसाब लगाया गया है कि इंग्लैंड में 2008 में 5,275 और 7,750 के बीच मामले दर्ज किए गए।

ब्रिटेन के विदेश मंत्रालय की विशेष इकाई ने पिछले साल ऐसे 420 मामलों को निपटाया जबकि 2005 में इनकी संख्या केवल 152 थी। इकाई ने ऐसे मामलों का पता लगाने के लिए स्वास्थ्यकर्मियों और शिक्षकों को दिशा निर्देश जारी किए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ब्रिटेन में जबरन ब्याह दी जाती हैं भारतीय लड़कियां