class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आंखों के लिए डाइट

आंखों के लिए डाइट

बच्चो, आंखें हमारे शरीर का बेहद कोमल और महत्त्वपूर्ण अंग है, इसलिए इनकी अच्छी तरह देखभाल करना अति आवश्यक है। अच्छे खान-पान से आंखों को स्वस्थ रखा जा सकता है,  कई विटामिन्स तथा मिनरल्स आंखों के लिए अति आवश्यक होते हैं, जिनकी कमी के कारण तुम्हें दृष्टि से संबंधित कई प्रकार की बीमारियां हो सकती हैं। इनमें विटामिन ए, सी, ई, बी कॉम्प्लेक्स, जिंक तथा सेलेनियम मुख्य रूप से शामिल हैं। नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. राजीव सूदन के मुताबिक हर वर्ष हमारे देश में 52 हजार बच्चे विटामिन ए की कमी के कारण आंखों की रोशनी खो देते हैं। विटामिन ए फलों एवं सब्जियों में खास तौर से पाया जाता है, इसलिए तुम्हें खासतौर से इनका सेवन करना चाहिए।

विटामिन सी की कमी कैटरेक्ट और ग्लूकोमा जैसी बीमारियों के रूप में सामने आती है। यह आलू, टमाटर तथा हरी सब्जियों में अधिक पाया जाता है। तुम्हारा रेटिना सही प्रकार से काम करता रहे, इसके लिए अंडा तथा सूखे मेवों का सेवन करें, क्योंकि इनमें जिंक पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है। सनफ्लावर सीड्स, मछली एवं साबुत अनाज आदि सेलेनियम के अच्छे त हैं। सेलेनियम आंखों को जल्दी बूढ़ा होने से बचाता है । बी कॉम्प्लेक्स भी आंखों के लिए बहुत आवश्यक है। इसकी कमी से आंखों में मोतियाबिंद, जलन तथा  वह लाल हो सकती हैं। इसे व्हीटजर्म, खमीर, खमीर से बनी वस्तुओं तथा साबुत अनाज के सेवन से प्राप्त कर सकते हैं।   दूध, क्रीम, मक्खन, पनीर, मीट, अंडे, पालक, आंवला, संतरे जैसी वस्तुएं खूब खानी चाहिए। सर्दियों में गाजर का सेवन आंखों के लिए अच्छा होता है, जबकि गर्मियों में आम व पपीता खाना चाहिए। बरसात में मौसम में कीटाणु अधिक सक्रिय हो जाते हैं, इसलिए मौसमी फल तथा सब्जियों का उपयोग अधिक करना लाभकारी होता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आंखों के लिए डाइट