class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आय से अधिक संपत्ति मामले में निगरानी कोर्ट का आदेश

आय से अधिक संपत्ति अजिर्त करने के मामले में निगरानी कोर्ट ने बुधवार को एक महत्वपूर्ण आदेश दिया। विशेष न्यायाधीश विनय कांत खान ने निगरानी थाना को पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा, पूर्व मंत्री बंधु तिर्की, कमलेश कुमार सिंह और भानु प्रताप शाही के खिलाफ मामला दर्ज करने को कहा।

उनके खिलाफ राजधानी के अशोक नगर निवासी राजीव शर्मा ने शिकायतवाद दर्ज कराई थी। विशेष न्यायाधीश ने अपने आदेश में कहा कि इन सभी प्रतिवादियों के खिलाफ सीआरपीसी की धारा 156 के तहत मामला दर्ज किया जाये। वादी की ओर से अधिवक्ता आनंद प्रकाश ने पक्ष रखा।

शिकायतवाद संख्या 1/09 में आरोप लगाया गया है कि कोड़ा और अन्य पूर्व मंत्रियों ने अपने पद का दुरुपयोग कर बेहिसाब संपत्ति अजिर्त की है। कोड़ा पर यह आरोप है कि उनके शासन काल में विनोद सिन्हा और संजय चौधरी ने 15 कंपनियां बनायीं, जिसमें उनकी सहभागिता रही।

श्री सिन्हा ने कोड़ा के सहयोग से दुबई में कंपनी खोली और हवाला के माध्यम से उसमें निवेश किया। पूर्व मंत्री बंधु तिर्की पर यह आरोप है कि उन्होंने नागार्जुना कंस्ट्रक्शन को गलत तरीके से लाभ पहुंचाया और उसके एवज में दिल्ली में फ्लैट लिया। उन पर बनहौरा में काफी जमीन खरीदी।

इसी तरह पूर्व मंत्री कमलेश कुमार सिंह के खिलाफ अपने पद का दुरुपयोग कर बेहिसाब संपत्ति अजिर्त करने का आरोप लगाया गया है। इसके अलावा पाइप खरीद में कमीशन लेने, अपने परिजनों के नाम जमीन खरीदने और हवाला के माध्यम से विदेश में निवेश करने का आरोप लगाया गया है।

पूर्व मंत्री भानु प्रताप शाही पर जमीन खरीदने, ट्रांसफर-पोस्टिंग में पैसा लेने और कमीशनखोरी का आरोप लगाया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कोड़ा और तीन पूर्व मंत्रियों पर करें केसः कोर्ट