class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार में फिर छाने लगा है कोसी का खौफ

नेपाल द्वारा हाल ही में कोसी नदी में बड़े पैमाने पर पानी छोड़े जाने से बिहार के हजारों लोगों को पिछले वर्ष जैसी विनाशकारी बाढ़ का भय सताने लगा है।

मधेपुरा, पूर्णिया, सहरसा और अररिया जिलों में लोगों में घबराहट को देखते हुए राज्य सरकार ने कोसी बांध से जुड़े अभियंताओं को सतर्क रहने और स्थिति पर नजर बनाए रखने को कहा है।

सुपौल में तैनात एक अभियंता ने बताया कि सभी अभियंताओं से जरूरी उपकरणों के साथ तैयार रहने और बांध की सुरक्षा की खातिर हर स्थिति का सामना करने को कहा गया है। भारी बारिश की वजह से नेपाल मंगलवार रात तक 1.64 क्यूसेक पानी कोसी नदी में छोड़ चुका है। कहा जा रहा है कि इस साल यह रिकार्ड स्तर पर छोड़ा गया पानी है।

बिहार के जल संसाधन मंत्री बृजेंद्र प्रसाद यादव ने कहा कि कोसी बांध सुरक्षित है और घबराने की जरूरत नहीं है।  यादव ने कहा कि कोसी नदी में ज्यादा पानी छोड़े जाने से बांध को कोई खतरा नहीं है। यह सब महज अफवाह है।


गौरतलब है कि पिछले वर्ष अगस्त में आई बाढ़ की वजह से बिहार में 30 लाख से अधिक लोग बेघर हो गए थे।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिहार में फिर छाने लगा है कोसी का खौफ