class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अफगान नीति पर सतर्क रहे सुरक्षा परिषदः भारत

अफगान नीति पर सतर्क रहे सुरक्षा परिषदः भारत

अफगानिस्तान में सुरक्षा की स्थिति पर गंभीर चिंता जताते हुए भारत ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद से कहा कि मेल-मिलाप और बातचीत में ज्यादा सतर्कता की जरूरत है और अच्छे एवं बुरे तालिबान में भेद को कमजोरी के तौर पर देखा जा सकता है।

संयुक्त राष्ट्र में भारतीय राजदूत हरदीप पुरी ने अफगानिस्तान पर परिषद की एक विशेष बैठक में कहा कि  सुरक्षा स्थिति बहुत चिंताजनक है। अफगान जनता के लिए आने वाले छह महीनों के कठिन होने के बारे में अनुमान लगाने के लिए बहुत दूरदृष्टि की जरूरत नहीं है।

पुरी ने कहा कि असमान युद्ध तौर तरीके और जटिल आतंकवादी हमले बढ़ रहे हैं और ऐसे आतंकवाद को सहायता देने वाले स्रोतों के सूखने के कोई संकेत नहीं हैं। हमें गंभीरता से देखने की आवश्यकता है कि इसे किस प्रकार हासिल किया जा सकता है।

उन्होंने कहा कि इस संदर्भ में आतंकवादी हमलों के निरूपण के बारे में संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्टों में इस्तेमाल की जाने वाली भाषा पर भारत की आपत्तियां बनी हुई हैं। उन्होंने कहा कि निश्चित तौर पर ऐसे अभियान सरकार विरोधी तत्वों या विद्रोहियों द्वारा तेज नहीं किए जा रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अफगान नीति पर सतर्क रहे सुरक्षा परिषदः भारत