class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अधिसूचना जारी, केबल टीवी एमएसओ को भी देना होगा टैक्स

अंतत डीटीएच (डायरेक्ट टू होम) टीवी प्रसारण पर मनोरंजन कर लगा दिया गया। केबल टीवी प्रसारण करने वाले एमएसओ (मास्टर सर्विस ऑपरेटर) की प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष कमाई भी इस टैक्स के दायरे में शामिल होगी। उधर, छविगृहों के टिकटों की टैक्स प्रणाली में बदलाव करते हुए नई कर प्रक्रिया पर विचार किया जा रहा है।

महकमे के मंत्री नकुल दुबे ने बताया कि डीटीएच और केबल टीवी पर नई टैक्स प्रणाली लागू करने के बाद तय करेंगे कि सिनेमा के टिकटों पर एकमुश्त कुल कितना मनोरंजन कर लगाया जाय। दूसरी ओर, मनोरंजन से जुड़े प्रत्येक छोटे-बड़े कार्यक्रम के लिए डीएम की अनुमति आवश्यक होगी।

डीटीएच पर टैक्स लगाने की तैयारी के बारे में हिन्दुस्तान ने बीते 13 जून के अंक में समाचार प्रकाशित किया था। गत दिनों एक अधिसूचना के जरिये डीटीएच पर टैक्स के मानक तय कर दिये गये। इसके तहत उपभोक्ता के घर या दफ्तर में डीटीएच उपकरण लगाने पर कंपनी से एक मुश्त 30 फीसदी और प्रति माह के मासिक शुल्क पर इतना ही मनोरंजन कर वसूला जाएगा।

केबल टीवी इंस्टॉलेशन व एमएसओ पर भी यही प्रक्रिया लागू होगी। सहायक आयुक्त मनोरंजन कर सीपी त्रिपाठी के अनुसार केबल टीवी ऑपरेटरों से प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष शुल्क लेने वाले एमएसओ इनमें शामिल हैं। कई बार मांगे जाने के बावजूद डीटीएच कंपनियों के वितरकों ने अभी तक बीते दो साल में बांटे गये कनेक्शन का ब्योरा नहीं दिया है। दूसरी ओर, सिनेमा के टिकट पर लगने वाले 60 फीसदी मनोरंजन कर में बदलाव संबंधी अंतिम फैसला बाकी है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अब डीटीएच पर भी झेलिए टैक्स