class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुश्किल सवाल

सोचिए, अगर किसी जॉब इंटरव्यू के दौरान आपसे कोई मुश्किल सवाल पूछ लिया जाए, जिसका जवाब आपके पास न हो, तो आप क्या करेंगे? जहिर है, किसी भी शख्स के लिए ऐसी स्थिति किसी बुरे सपने से कम नहीं होगी। लेकिन घबराने की कोई जरूरत नहीं है, क्योंकि किसी भी शख्स से ऐसी उम्मीद नहीं की जाती कि वह हर सवाल का जवाब दे ही। हां, इंटरव्यू में ये जरूर नोट किया जाएगा कि आप उस स्थिति का मुकाबला किस तरह से करते हैं। ऐसा मुश्किल सवाल आपके पेशे या फिर कार्य और जीवन की किसी स्थिति से जुड़ा हो सकता है। और ऐसे सवालों से निपटने का कुछ खास तरीका होता है।

सवाल का सामना
- अगर आप किसी सवाल को ठीक से समझ नहीं पाए हैं, या इसका उत्तर आपके पास नहीं है, तो सवाल के सामने आते ही गेंद साक्षात्कारकर्ता के पाले में ही फेंक देनी चाहिए। कुछ सोचने का प्रदर्शन करते हुए बात इस तरह आगे बढ़ाएं : ‘जहां तक मैं समझता हूं. . . अगर गलती पर हूं, तो मुझे माफ करना. . . मैं समझता हूं कि . . . ’ 

- ऐसा न हो कि किसी भी सवाल के जवाब में जो भी दिमाग में आ जाए वो कह दें। खासकर तब, जबकि आपके पास जवाब हो ही नहीं। फालतू में अपनी राय न दें, क्योंकि ये निगेटिव असर डाल सकती है। इसके बजाय अपना मंतव्य देने की शुरुआत करें और सामने वाले की प्रतिक्रिया देखते हुए उसके अनुकूल ही उत्तर को आगे बढ़ाएं। 

- ध्यान रखें, कुछ मुश्किल सवाल केवल आपकी प्रतिक्रिया देखने को ही रखे जाते हैं। अत: आप शांत और संयत रहें और अटकलबाजी से बचें। जवाब नहीं आता, तो साफ-साफ कह देना बेहतर होगा कि माफ कीजिए इस बारे में मेरी जानकारी बहुत कम है। इसे आपकी ईमानदारी समझा जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मुश्किल सवाल